इंडिया के पूर्व कप्तान को लगता है कि ईस्ट बंगाल देश की नंबर-1 लीग में खेलने के लिए तैयार है।

ईस्ट बंगाल के पूर्व कप्तान और भारतीय फुटबॉल टीम के दिग्गज बाईचुंग भूटिया का मानना है कि उनका पुराना क्लब इस साल इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) में खेलने के लिए तैयार हैं।

क्लब ने हाल ही में श्री सीमेंट को अपना नया स्पॉन्सर चुना है और वह आईएसएल के लिए तैयार हैं। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने इस बात का ऐलान किया कि सभी परेशानियों का हल निकाल लिया गया है और अब वह कोलकाता स्थि​त क्लब लीग में खेलने के लिए तैयार है। इससे पहले मोहन बागान, एटीके के साथ मर्जर करने के कारण पहले ही आईएसएल का हिस्सा बन चुका हैं।

बाईचुंग भूटिया ने आईएएनएस से कहा, “मैं बहुत खुश हूं कि ईस्ट बंगाल को आखिरकार इंवेस्टर मिल गया है और उम्मीद है कि वे इस साल आईएसएल में खेलेंगे। मैं फैंस के लिए खुश हूं क्योंकि उनका क्लब अब भारत की टॉप लीग में खेलेगा। ईस्ट बंगाल ने पहले ही काफी खिलाड़ियों को साइन कर लिया और उन्हें कोई परेशानी नहीं होगी।”

खिलाड़ियों का के अलावा ईस्ट बंगाल फिलहाल स्पेन के मारियो रिवेरा से टीम के हेड कोच बनाने को लेकर बात कर रहे हैं जो पहले ही टीम को 2018-19 में चैंपियन बना चुके हैं। बाकी फैंस की तरह बाईचुंग भी आईएसएल में कोलकाता डर्बी का मैच देखने के लिए काफी उत्साहित हैं।

बाईचुंग भूटिया ने कहा, “मैं आईएसएल में कोलकाता डर्बी देखने के लिए काफी उत्साहित हूं। मैं पूरे भरोसा के साथ कहता हूं कि मोहन बागान और ईस्ट बंगाल आईएसएल का चार्म बढ़ा देंगे और टूर्नामेंट का स्तर भी आगे बढ़ेगा।”

पूर्व स्ट्राइकर ने क्लब के आधिकारियों को सलाह देते हुए कहा, “मुझे लगता है कि क्लब अब अपने पिछले अनुभवों से काफी कुछ सीख चुका है और उम्मीद है कि वो अब और परिपक्व हो जाएंगे। आईलीग भी अपना शानदार प्रदर्शन जारी रखेगा। वहां के क्लब भी कुछ वर्षों में आईएसएल के लिए क्वॉलीफाई कर पाएंगे और लीग में परमोशन एंव रेलिगेशन शुरू होगा।”