दोनों टीमों के कुछ प्लेयर्स के बीच आपस में प्रतिस्पर्धा देखने को मिल सकती है।

एक साल से ज्यादा समय के बाद इंडियन नेशनल फुटबॉल टीम कोई इंटरनेशनल मुकाबला खेलने जा रही है। 25 मार्च को शाम आठ बजे इंडिया और ओमान के बीच इंटरनेशनल फ्रेंडली मुकाबला खेला जाएगा। ये मैच दुबई में होगा और भारतीय फैंस बेसब्री से इसका इंतजार कर रहे हैं।

ओमान के बाद इंडियन टीम का अगला मुकाबला 29 मार्च को यूएई से होगा। इन मैचों में अच्छा प्रदर्शन करके कई प्लेयर नेशनल टीम में अपनी जगह पुख्ता करना चाहेंगे।

इंडियन फुटबॉल टीम के लिए यह मुकाबला काफी कड़ा होने वाला है। दोनों ही टीमों के बीच मैदान में जबरदस्त टक्कर देखने को मिल सकती है। वहीं दोनों ही टीमों में कुछ ऐसे प्लेयर्स भी हैं जिनके बीच आपस में जबरदस्त प्रतिद्वंदिता देखने को मिल सकती है।

आइए उन तीन अहम बैटल के बारे में जानते हैं जो इंडिया और ओमान के बीच होने वाले मैच में देखने को मिल सकते हैं।

3.अब्दुल अजीज अल-मुकबाली बनाम संदेश झिंगन

अब्दुल अजीज अल-मुकबाली ओमान के बेहतरीन स्ट्राइकर हैं। डिफेंडर्स को उकसाने के लिए वो अपनी बॉडी का प्रयोग करते हैं। वो ओमान के लिए टार्गेट मैन की भूमिका निभा सकते हैं, जिनके ऊपर सबकी निगाहें होंगी।

अब्दुल अजीज को खामोश रखने का पूरा दारोमदार संदेश झिंगन पर रहेगा। एटीके मोहन बगान के लिए इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) में उन्होंने जबरदस्त प्रदर्शन किया था। झिंगन और अब्दुल के बीच मैदान में जबरदस्त मुकाबला देखने को मिल सकता है।

Sandesh Jhingan
झिंगन से बेहतरीन प्रदर्शन की उम्मीद होगी।

2. प्रीतम कोटाल बनाम अल-मनदहार अल अलावी

संदेश झिंगन के साथ प्रीतम कोटाल भी एटीके मोहन बगान का अहम हिस्सा थे और दोनों का ही डिफेंसिव रिकॉर्ड जबरदस्त रहा। ओमान के खिलाफ मुकाबले में प्रीतम कोटाल की कड़ी परीक्षा होगी। उन्हें विरोधी टीम के डेंजरस विंगर अल-मनदहार की चुनौती का सामना करना होगा।

अल-मनदहार लेफ्ट फ्लैंक में एक जबरदस्त प्लेयर हैं और वहां पर थोड़ी सी भी ढील मिलने पर वो इंडिया पर भारी पड़ सकते हैं। ओमान नेशनल टीम के लिए उन्होंने पांच मुकाबलों में चार गोल किए हैं। इसके अलावा सितंबर 2019 में इंडिया के खिलाफ उन्होंने एक ही मुकाबले में दो गोल किया था। दोनों ही टीमों के परफॉर्मेंस में इन प्लेयर्स के आपस के बैटल की अहम भूमिका रहेगी।

1. मानवीर सिंह बनाम जुमा अल हाबसी

एटीके मोहन बगान के एक और प्लेयर मानवीर सिंह पर भी काफी बड़ी जिम्मेदारी होगी। उन्होंने आईएसएल में जबरदस्त प्रदर्शन किया था और छह गोल किए थे। इसके अलावा तीन असिस्ट भी उन्होंने दिए थे। सुनील छेत्री की अनुपस्थिति में वो लाइन की अगुवाई करेंगे।

मानवीर के सामने ओमान के सेंटर बैक जुमा अल हाबसी की चुनौती रहेगी। 25 वर्षीय इस खिलाड़ी का परफॉर्मेंस काफी अच्छा रहा है। उन्होंने जॉर्डन के खिलाफ हाल ही में हुए मुकाबले में भी हिस्सा लिया था जो ड्रॉ रहा था। इंडिया और ओमान के इन दो यंगस्टर्स के बीच जबरदस्त प्रतिद्वंदिता देखने को मिल सकती है। दोनों ही खिलाड़ी एक दूसरे के सामने कड़ी चुनौती पेश कर सकते हैं।