द ब्लूज इस सीजन एक बार फिर से लीग को डोमिनेट करना चाहेंगे।

​बेंगलुरु एफसी आगामी सीजन में इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) की सबसे मजबूत टीमों में से एक है। पिछले कुछ सीजन में उसने जबरदस्त प्रदर्शन किया है और आई-लीग एवं आईएसएल दोनों ही ट्रॉफी जीती हैं। सुनील छेत्री की टीम हर बार टाइटल जीतने की रेस में रहती है।

टीम पर हमेशा बेहतरीन परफॉर्मेंस करने का दबाव भी रहता है। 2020-21 सीजन में उनके लिए चुनौती कड़ी रहने वाली है क्योंकि दूसरी टीमों ने जहां कई बेहतरीन प्लेयर्स को साइन किया है, तो वहीं बेंगुलुरु में भी कई नए खिलाड़ी आए हैं। ऐसे में सबसे बड़ा सवाल ये उठता है कि वो कौन-कौन से प्लेयर हैं जिनके ऊपर टीम इस सीजन ज्यादा निर्भर रहेगी।

आइए हम आपको उन पांच खिलाड़ियों के बारे में बताते हैं जो आगामी सीजन बेंगलुरु एफसी के लिए अहम भूमिका अदा करेंगे:

5. गुरप्रीत सिंह संधू

गुरप्रीत सिंह संधू निश्चित तौर पर टीम के सबसे भरोसेमंद खिलाड़ियों में से एक हैं। वो सबसे बेहतरीन इंडियन गोलकीपर माने जाते हैं और बेंगलुरु एफसी के डिफेंस के लिए काफी अहम होंगे। बैकलाइन के ऊपर उनकी पकड़ और शॉट रोकने की क्षमता उन्हें काफी अलग बनाती है।

उनके नाम सबसे ज्यादा क्लीन-शीट का रिकॉर्ड है। पिछले सीजन उनके नाम 11 और ओवरऑल 58 मुकाबलों में 25 शटआउट्स हैं। ये आंकड़े आगामी सीजन में जरुर बढ़ेंगे।

4. एरिक पारतालू

एरिक पारतालू अभी बेंगलुरु एफसी की मिडफील्ड का एक अहम हिस्सा हैं। वो डिफेंड कर सकते हैं और उनकी पासिंग रेंज भी काफी बढ़िया है। इसके अलावा वो विरोधी टीम के पास को ब्लॉक करने में भी माहिर हैं और काउंटर अटैक के दौरान विंगर्स को बॉल तेजी से देते हैं। एरिक ये सब करने में तो सक्षम हैं ही लेकिन सेट-पीस में भी उनके योगदान को नजरंदाज नहीं किया जा सकता है।

वह पहले एटीके मोहन बगान की टीम में जाने वाले थे। इसके लिए उन्हें काफी पैसे मिल रहे थे लेकिन बाद में उन्होंने अपना माइंड चेंज कर लिया और बेंगलुरु एफसी के साथ दो साल का करार और कर लिया। निश्चित तौर पर एरिक इस सीजन टीम के लिए अहम भूमिका अदा करेंगे।

3. उदांता सिंह

उदांता सिंह अपनी पेस के लिए मशहूर हैं और आईएसएल में सबसे बेहतरीन विंगर्स में से एक हैं। बैकलाइन के पीछे भी वो जबरदस्त स्पेस बनाते हैं लेकिन जब किसी खिलाड़ी के पास क्षमता ज्यादा होती है तो फिर उससे उम्मीदें भी काफी बढ़ जाती हैं।

हालांकि, उदांता को अभी भी अपने फिनिशिंग पर काम करने की जरुरत है और गोलपोस्ट के सामने उन्हें और कॉन्फिडेंट होने की जरुरत है। पिछले सीजन वो बेंगलुरु एफसी के लिए 19 मैचों में सिर्फ एक ही गोल कर पाए थे, इसलिए उन्हें अभी काफी सुधार करने की जरुरत है। क्लब को उनके टैलेंट के ऊपर पूरा भरोसा है इसलिए उनके साथ तीन साल का कॉन्ट्रैक्ट और किया है।

2. सुनील छेत्री

सुनील छेत्री भारतीय फुटबॉल के इतिहास में सबसे बेहतरीन खिलाड़ियों में से एक हैं और इंडियन फुटबॉल के ऊपर उनके प्रभाव के बारे में सब लोग काफी अच्छी तरह से जानते हैं। बेंगलुरु एफसी की आईएसएल में सफलता में हमेशा ही उनका काफी अहम योगदान रहा है और इस सीजन भी वो टीम के सबसे अहम खिलाड़ी होंगे। छेत्री की पेस भले ही अब थोड़ी कम हो गई है लेकिन उन जैसे प्लेयर के लिए उम्र महज एक आंकड़ा है।

इस दिग्गज खिलाड़ी ने अपने गेम को परफेक्ट तरीके से अपनाया है और वो सेंट्रल पोजिशन में ड्रिफ्ट करना पसंद करते हैं। अपनी बेहतरीन टेक्निक की वजह से वो रनर ढूंढने में कामयाब रहते हैं और फ्री किक और कॉर्नर के वो जबरदस्त प्लेयर हैं। नौ गोल के साथ पिछले सीजन वो सबसे ज्यादा गोल करने वाले भारतीय खिलाड़ी थे।

1. क्रिस्टियन ऑपसेथ

आईएसएल के 2020-21 सीजन के लिए बेंगलुरु एफसी ने नॉर्वे के क्रिस्टियन ऑपसेथ को साइन किया है। बेंगलुरु एफसी के स्ट्राइकर्स का प्रदर्शन ज्यादा अच्छा नहीं रहा है। मैनुअल ओनू, केवॉन फ्रेटर और डेशोर्न ब्राउन ने अपने परफॉर्मेंस से निराश ही किया है। अब अटैक को लीड करने की जिम्मेदारी पूरी तरह से नॉर्वे के क्रिस्टियन ऑपसेथ के ऊपर है। उनका परफॉर्मेंस तय करेगा कि बेंगलुरु एफसी इस सीजन कैसा प्रदर्शन करती है।

क्रिस्टियन ऑपसेथ हाल ही में ए-लीग में एडिलेड यूनाईटेड की टीम का हिस्सा थे। इस लीग में उन्होंने छह गोल और दो असिस्ट किया था। बेंगलुरु एफसी के लिए आगामी सीजन में वो इससे बेहतर प्रदर्शन करना चाहेंगे।