इस सीजन कोलकाता स्थित क्लब ने अबतक दमदार प्रदर्शन किया है।

दो बार की चैंपियन एटीके रविवार को जब साल्ट लेक स्टेडियम में दो बार की चैंपियन चेन्नइयन एफसी की मेजबानी करेगी तो उसकी कोशिश इस मैच से तीन अंक लेकर इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के छठे सीजन में फिर से टॉप स्थान पर पहुंचने की होगी।

आईएसएल में इस सीजन पहले ही प्लेऑफ के लिए अपना स्थान पक्का कर चुकी एटीके की नजरें अब एएफसी चैंपियंस लीग में जगह बनाने पर लगी हुई है। एटीके की टीम 16 मैचों में 33 अंकों के साथ दूसरे नंबर पर है।

चेन्नइयन की नजरें प्लेऑफ में पहुंचने पर है। चेन्नइयन अभी 15 मैचों में 22 अंकों के साथ छठे नंबर पर है और एक जीत उसे अंतालिका में पांचवें नंबर पर पहुंचा देगी।

वहीं, एटीके अगर यह मैच जीतने में सफल रहती है तो उसकी यह लगातार पांचवीं जीत होगी। टीम के स्टार खिलाड़ी रॉय कृष्णा सर्वाधिक गोल करने वाले खिलाड़ियों की सूची में दूसरे नंबर पर हैं। वह अब तक 13 गोल कर चुके हैं। उन्होंने एटीके के पिछले मैच ओडिशा एफसी के खिलाफ शानदार हैट्रिक लगाई थी।

एटीके के कोच एंटोनियो हबास ने कहा, “हम अच्छे लय में और हमारे प्रदर्शन भी काफी अच्छे हैं। लेकिन हमें इसे जारी रखना होगा। अब हमारा प्रतिद्वंद्वी चेन्नइयन है और हमें जीत दर्ज करने की जरूरत है। यह एक अच्छा मैच होगा क्योंकि दोनों टीमें अच्छी फुटबाल खेल रही है। लक्ष्य वही रहेगा जोकि हर मैच में होता है-जीत।”

एटीके के पास अगर कृष्णा है तो चेन्नइयन के पास स्ट्राइकर नेरिजुस व्लास्किस है, जोकि अब तक 12 गोल दाग चुके हैं। वह इस सीजन में अब तक पांच असिस्ट भी कर चुके हैं।

चेन्नइयन के कोच ओवेन कोल ने कहा, “एटीके शीर्ष स्थान हासिल करने के लिए तीन अंक अर्जित करने की कोशिश करेगी जबकि टॉप-4 के पास पहुंचने के लिए तीन अंक हासिल करने की कोशिश करेंगे। वे एक अच्छी टीम है और मुझे विश्चवास है कि वे भी जानते हैं कि हम एक अच्छी टीम है। हम एटीके का सम्मान करते हैं, लेकिन हम यहां डरने के लिए नहीं आए हैं। मैच जीतने के लिए हमें अपना सर्वश्रेष्ठ देना होगा।”

टीम के राहत की बात यह है कि अनिरुद्ध थापा फिर से टीम में लौट चुके हैं जबकि जर्मनप्रीत सिंह भी मैच के लिए उपलब्ध रहेंगे। टीम को हालांकि थोई सिंह की कमी खलेगी, जिन्हें बेंगलुरू एफसी के खिलाफ पीला कार्ड मिला था।