खिलाड़ी अपने नए कोच से काफी प्रभावित नजर आ रहे हैं।

​जमशेदपुर एफसी की टीम इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के नए सीजन के लिए पूरी तरह से तैयार है। कोरोना वायरस की वजह से इस बार लीग का आयोजन गोवा में बायो-सिक्योर बबल में किया जा रहा है। मेन ऑफ स्टील संगोदा पंचायत ग्राउंड में ट्रेनिंग कर रहे हैं और अपने अभियान का आगाज 24 नवंबर को चेन्नईयन एफसी के खिलाफ मुकाबले से करेंगे। सीजन की शुरुआत से पहले टीम के दो खिलाड़ियों करन अमीन और जोएनर लॉरिंसो ने टीम के नए कोच ओवन कोल की काफी तारीफ की।

दरअसल पिछले सीजन जमेशदपुर एफसी का प्रदर्शन अच्छा नहीं रहा था। इसी वजह से उन्होंने ओवन कोल को कोच के तौर पर नियुक्त किया। चेन्नईयन एफसी के लिए पिछले सीजन कोच के तौर पर कोल ने शानदार प्रदर्शन किया था और वो चाहेंगे कि जमशेदपुर की टीम भी वही परफॉर्मेंस दोहराए। टीम ने इस सीजन कई बेहतरीन डोमेस्टिक और ओवरसीज प्लेयर्स को साइन किया है।

करन अमीन ने नए कोच को लेकर कहा, “हम निश्चित तौर पर जीतना चाहते हैं लेकिन मेरे हिसाब से खेलने का स्टाइल वही रहेगा। पिछले सीजन ओवन कोल चेन्नईयन एफसी की टीम को फाइनल तक लेकर गए थे। इसलिए हमें पता है कि उन्हें खिलाड़ियों से क्या उम्मीद है। हमारे पास जैकीचंद सिंह, नेरीजस वाल्सकिस और पीटर हार्टले जैसे प्लेयर इस सीजन हैं। इसके अलावा कई सारे युवा युवा प्लेयर भी इस बार टीम में आए हैं। टीम में युवा और अनुभवी खिलाड़ियों का मिश्रण है। कोच बहुत फोकस्ड हैं और वो चाहते हैं कि टीम जीते इसलिए वो ये सुनिश्चित करते हैं कि ट्रेनिंग में हम अपना 100 प्रतिशत दें।”

31 वर्षीय करन अमीन का ये भी मानना है कि ओएन कोएले की कोचिंग में युवा खिलाड़ियों के खेल में काफी सुधार होगा। उन्होंने कहा “जब ओवन कोल को कोच बनाया गया था तब मैंने एडविन वंसपॉल से पर्सनली बात की थी। अमरजीत सिंह, मोबाशीर रहमान, नरेंदर गहलोत और अनिकेत जाधव जैसे युवा खिलाड़ियों को कोच कोल काफी कॉन्फिडेंस देते हैं। इससे युवा खिलाड़ियों को और टीम को काफी फायदा होगा।”

जोएनर लॉरिन्सो ने भी नए खिलाड़ियों को लेकर बात की और कहा कि हम उनके साथ काफी अच्छी तरह से घुल मिल रहे हैं। उन्होंने कहा, “जितने भी नए प्लेयर्स आए हैं हम उनके साथ ट्रेनिंग के दौरान काफी बेहतरीन तरीके से घुल-मिल रहे हैं। टीम में और आस-पास माहौल काफी पॉजिटव है। “