संजीव गोयंका ने यह भी बताया कि क्लब में सुभा​शीष बोस और मानवीर सिंह भी शामिल होंगे।

इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) में 2020-2021 सीजन से भाग लेने वाले नए क्लब एटीके-मोहन बागान के हेड कोच एंटोनिया हबास ही होंगे। क्लब के मालिक संजीव गोयंका ने यह जानकारी दी।

इस साल जनवरी में ही एटीके और मोहन बागान ने एक होने की घोषणा की थी। एटीके के मालिकाना हक वाली कंपनी आरपीएसजी ग्रुप ने मोहन बागान में मेजोरटी शेयर हासिल किए।

क्लब में आरपीएसजी ग्रुप के 80 परसेंट शेयर हैं। जबकि मोहन बागान के मालिकाना हक वाली कंपनी मोहन बागान फुटबॉल क्लब (इंडिया) प्राइवेट लिमिटेड के पास 20 परसेंट शेयर हैं। यह क्लब 1889 में अस्तित्व में आया था।

एटीके ने भी इस सीजन आईएसएल का खिताब अपने नाम किया। जीत के बाद गोयंका ने कहा, “हां, हबास टीम के हेड कोच होंगे। मुझे लगता है हमारी किस्मत ही कुछ ऐसी है, अगर हम साथ काम करते हैं तो सफल होते हैं।”

मोहन बागान ने भी हेड कोच वीकूना के मार्गदर्शन में 2019-20 सीजन का आई-लीग खिताब जीता हैं जो इस स्थिति को थोड़ा रोचक बना देता है। क्लब को इस सीजन अभी चार मैच और खेलने हैं।

गोयंका ने कहा, “वीकूना भी एक बहुत अच्छे कोच हैं। देखते हैं क्या होता है।” मोहन बागान के साथ स्पेनिश कोच को कॉनट्रेक्ट इस सीजन के अंत में समाप्त हो रहा है।

इसके अलावा, गोयंका ने यह भी बताया कि सुभा​शीष बोस और मानवीर सिंह नए सीजन की शुरुआत से पहले क्लब में शामिल होंगे। बोस को एटीके खरीदेगा इस न्यूज को सबसे पहले आपतक खेल नाओ ने भी पहुंचाया था।

उन्होंने कहा, “अभी तक हम इसी सीजन की योजन बना रहे थे जो हाल ही में समाप्त हुआ है। अब आई-लीग और आईएसएल का खिताब जीतने के बाद हम नए सीजन पर काम करना शुरू करेंगे।”

हबास के मार्गदर्शन में एटीके ने दूसरी बार आईएसएल का खिताब जीता है। इससे पहले, 2014 में हबास ने क्लब को टाइटल दिलाया था।