टूर्नामेंट के पहले मैच में भिड़ेंगी दोनों कोचों की टीमें।

इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के सातवें सीजन के पहले मुकाबले में बोम्बोलिम के जीएमसी स्टेडियम में शुक्रवार को केरला ब्लास्टर्स का सामना एटीके मोहन बागान से होगा। दोनों टीमें लीग में पुरानी हैं और दोनों का ही फैन बेस जबरदस्त है। यही नहीं, दोनों के बीच लीग में जबरदस्त प्रतिद्वंद्विता रही है।

आठ महीने बाद भारत में स्टेडियमों में खेल आयोजन हो रहा है और आईएसएल इसका सूत्रधार बना है। इसीलिए लीग के सातवें सीजन की शुरुआत दो जबरदस्त टीमों के बीच होने वाले मुकाबले से हो रही है। दोनोें टीमें तीसरी बार सीजन ओपनर में आमने-सामने हैं। इससे पहले के दो मुकाबलों में केरला ब्लास्टर्स की जीत हुई है और अब देखने वाली बात यह है कि क्या वह तीसरी बार भी यह कमाल कर पाएगा।

पिछली बार जब दोनों टीमें भिड़ी थीं, तब से लेकर आज तक काफी कुछ बदल चुका है। केरला ब्लास्टर्स के लिए मुख्य कोच के तौर पर एल्को शैटोरी की जगह कीबू विकुना ले चुके हैं। यह वही कीबू विकुना हैं जिन्होंने बीते सीजन में मोहन बागान को आई-लीग खिताब दिलाया था और यह सब उन्होंने अपने अटैकिंग फुटबॉल के दम पर किया था। अब उनके सामने नई चुनौती है और उन्हें खुद को साबित करना है।

विकुना ने कहा, “मोहन बागान के लिए मेरे मन में हमेशा अच्छी भावना रही है। मैं एक सीजन के लिए ही वहां था और मेरे साथ काफी अच्छा बर्ताव हुआ। मेरे वहां बोर्ड में कई दोस्त हैं और अब मैं केरला ब्लास्टर्स के साथ आकर काफी खुश हूं। मैं अपना श्रेष्ठ दूंगा। केरल में भी लोगों ने मेरा सम्मान से स्वागत किया। क्लब के सदस्यों के साथ मेरे अच्छे रिश्ते हैं और हम अच्छा फुटबाल खेलने वाली एक अच्छी टीम बनाने का प्रयास कर रहे हैं।”

इस बीच, केरला की विपक्षी, मौजूदा चैम्पियन एटीके मोहन बागान खिताब के दावेदार के रूप में सीजन की शुरुआत करना चाहेगा क्योंकि मुख्य कोच एंटोनियो लोपेज हबास की देखरेख में इसने अपनी टीम को मजबूती प्रदान की है।

पहले मैच को लेकर हाबास ने कहा, “विकुना ने आई-लीग में मोहन बागान के साथ अच्छा काम किया है लेकिन आईएसएल एक अलग टूर्नामेंट है। मैं उनका सम्मान करता हूं लेकिन हम इस मैच से तीन अंक लेना चाहेंगे क्योंकि हम हर दिन इसके लिए मेहनत कर रहे हैं।”

दोनों टीमों के मुख्य कोच स्पेनिश हैं। साथ ही दोनों टीमों में कई बड़े नाम हैं और दोनों का फैन बेस काफी जबरदस्त है। एसे में भारत में खेलों के लिहाज से सामान्य होते हालात में फुटबॉल की वापसी एक रोमांचक मैच से होने के आसार हैं। इन दोनों के बीच होने वाला हर मैच रोमांचक और देखने लायक होता है, ऐसे में लीग की शुरुआत इन दोनों की भिड़ंत से होने से बेहतर और कोई विकल्प नहीं है।