लीग के कई कद्दावर टीम्स ने स्कोरिंग चार्ट्स में भी लीड बनाई हुई है।

इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) मनोरंजन और शानदार मुकाबलों से भरी हुई है। अब तक हुए सातों एडिशन्स में कुछ टीमों ने अपने प्रदर्शन को बरकरार रखा है और वो लगातार टॉप पोजिशन पर भी बनी रही हैं। इन टीमों ने अपने प्रदर्शन को बरकरार रखने के लिए कई गोल दागे हैं।

एफसी गोवा, मुंबई सिटी एफसी, केरला ब्लास्टर्स जैसी टीमें आमतौर पर अटैकिंग फुटबॉल खेलती रही हैं और लगातार गोल दागती रही हैं। पिछले कुछ वर्षों में इन टीमों ने अपने खेमे में कई घरेलू और विदेशी अटैकिंग खिलाड़ी भी शामिल किए हैं। ऐसे में आईए जानते हैं कि आईएसएल के इतिहास में किस टीम ने दागे हैं सबसे ज्यादा गोल।

5. एटीके- 138 (107 मैच)

एटीके एफसी पिछले साल मोहन बगान के साथ मिल गया है। साल 2020-21 के सीजन में ये टीम एटीके मोहन बगान बन गई। दो बार की आईएसएल चैंपियन इस लीग के इतिहास में बेहतरीन खेल को बरकरार रखने में कामयाब रही है। कोलकाता के इस क्लब ने 6 सीजन्स में 107 मुकाबले खेले हैं, जिसमें टीम की तरफ से 138 गोल दागे गए हैं। इस टीम के सर्वश्रेष्ठ स्कोरर्स में ईयान ह्यूम (18 गोल), रॉय कृष्णा (15 गोल) और ईदू गार्सिया (9 गोल) शामिल हैं।

4. केरला ब्लास्टर्स- 141 (122 मैच)

आईएसएल में केरला ब्लास्टर्स का सफर काफी उतार-चढ़ाव भरा रहा है। दो बार की फाइनलिस्ट ने सातों सीजन के दौरान कई सारे गोल दागे हैं। फिलहाल टीम अपने बुरे दौर से गुजर रही है और उनके प्रदर्शन में भी काफी गिरावट आई है। हालांकि गोल दागने के मामले में येलो आर्मी काफी शानदार रही है। कोच्चि के इस क्लब ने 122 मुकाबलों में 141 गोल दागे हैं। इस क्लब का प्रतिनिधित्व कई शानदार विदेशी खिलाड़ियों ने किया है और कई सारे गोल किए हैं। इस टीम के टॉप स्कोरर में बार्थोलोमेव ओगबेचे (15 गोल), सीके विनीत (11 गोल) और ईयान ह्यूम (10 गोल) शामिल हैं।

3. मुंबई सिटी एफसी- 162 (123 मैच)

मुंबई सिटी एफसी का प्रदर्शन लीग में काफी रोचक रहा है। इस टीम ने खुद को बेहतरीन अटैकिंग खिलाड़ियों से लैस किया है। खासकर हाल ही के समय में जब ये टीम सिटी फुटबॉल ग्राउंड की ओनरशिप में आई है तब से। टीम ने 2020-21 के सीजन में अपना पहला आईएसएल क्राउन हासिल किया है। इस टीम के टॉप तीन स्कोरर्स में मोडोउ सोगोउ (15 गोल), एडम ले फोंद्रे (11 गोल) और ओगबेचे (8 गोल) शामिल हैं। एमसीएफसी उन तीन क्लब्स में भी शामिल है, जिन्होंने लीग के इतिहास में 150 से ज्यादा गोल दागे हैं।

2. चेन्नईयन एफसी- 182 (127 मैच)

चेन्नईयन एफसी लीग की सबसे बेहतरीन टीमों में से एक है। दो बार कॉम्पटिशन जीतने वाली ये टीम लीग में सबसे ज्यादा गोल दागने के मामले में दूसरे नंबर पर है। चेन्नईयन एफसी ने अब तक 127 मुकाबलों में 182 गोल दागे हैं। एफसी गोवा के बाद इस क्लब ने सबसे ज्यादा मुकाबले भी खेले हैं। अब तक कई शानदार खिलाड़ियों ने सीएफसी का प्रतिनिधित्व किया है। टीम के टॉप तीन गोल स्कोरर्स में जेजे लालपेखलुआ (23 गोल), स्टीवन मेंडोजा (17 गोल) और नेरिजुस वाल्सकिस (15 गोल) शामिल हैं। बेंगलुरु एफसी के बाद चेन्नईयन एफसी ही ऐसी टीम है, जिसका आईएसएल में टॉप स्कोरर कोई भारतीय खिलाड़ी है।

1. एफसी गोवा- 238 (130 मैच)

एफसी गोवा स्कोरिंग के मामले में पहले नंबर पर है। गौर्स ने अब तक भले ही एक भी लीग नहीं जीती हो, लेकिन 2019-20 में वो रेगुलर सीजन में जरूर जीते थे। इसके चलते ये टीम एएफसी चैंपियंस लीग 2021 के लिए सीधे क्वालिफाई हो गई थी। गोवा की ये टीम आमतौर पर फुटबॉल के अटैकिंग ब्रांड के तौर पर मशहूर है और टीम ने अब तक महज 130 मुकाबलों में 238 गोल दागे हैं।

गौर्स आईएसएल में 200 से ज्यादा गोल दागने वाली पहली और इकलौती टीम है। टीम के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ियों में फैरन कोरोमिनास का नाम भी शामिल है, जिन्होंने 57 मुकाबलों में 48 गोल दागे हैं। उनके अलावा टीम के गोल स्कोरर्स में ह्यूगो बोउमोस (16 गोल) और इगोर एंगुलो (14 गोल) भी शामिल हैं।