54 वर्षीय कोच का इंडिया की टॉप फ्लाइट फुटबॉल लीग में यह दूसरा सीजन होगा।

इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) क्लब चेन्नइयन एफसी के पूर्व मैनेजर ओवेन कोल को जमशेदपुर एफसी ने 2020-21 सीजन के लिए अपना नया हेड कोच नियुक्त किया है। खेल नाओ ने आपको पहले ही बता दिया था कि इस अनुभवी कोच की जमशेदपुर एफसी के साथ बातचीत चल रही है।

2019-20 के सीजन में ओवेन कोल की अगुवाई में चेन्नइयन एफसी ने फाइनल तक का सफर तय किया था। सीजन के दूसरे हाफ में चेन्नइयन की टीम का परफॉर्मेंस जबरदस्त रहा था। हालांकि, इसके बावजूद कोल ने दूसरी टीम का हेड कोच बनकर सबको हैरान कर दिया है।

क्लब के साथ ओवेन कोल का कॉन्ट्रैक्ट दो साल का है लेकिन पहले सीजन में अगर जमशेदपुर एफसी का परफॉर्मेंस अच्छा नहीं रहता है तो उनका यह कॉन्ट्रैक्ट खत्म भी किया जा सकता है। उन्होंने परफॉर्मेंस बेस्ड कॉन्ट्रैक्ट साइन किया है जो कि आईएसएल के लिए एकदम नई चीज है।

‘टाइम्स ऑफ इंडिया’ को एक अधिकारी ने बताया, “जमशेदपुर एफसी इस सीजन एक जबरदस्त कोच की तलाश में थी और ओवेन कोल से बेहतर कैंडिडेट इस समय कोई नहीं है। पिछले साल चेन्नइयन एफसी के साथ जिस तरह का उन्होंने काम किया उससे पता चलता है कि वो कितने शानदार कोच हैं। इस बात में कोई शक ही नहीं है कि वो जमशेदपुर एफसी के साथ सफल होंगे।”

आपको बता दें कि ओवेन कोल ने 2019 में हेड कोच के तौर पर चेन्नइयन एफसी की कमान संभाली थी। इसके बाद उन्होंने अपने नेतृत्व में टीम को प्लेऑफ तक पहुंचाया। वहां से चेन्नई की टीम ने टॉप-4 में एफसी गोवा को शिकस्त देकर सबको हैरान कर दिया। हालांकि, फाइनल मुकाबले में उन्हें बेहद करीबी अंतर से एटीके से हार का सामना करना पड़ा था।

चेन्नइयन एफसी कुछ अलग करना चाहती थी, इसीलिए कोल ने दूसरी टीम को ज्वॉइन कर लिया, ताकि वहां पर उन्हें अपने तरीके से काम करने की पूरी आजादी मिले। जमशेदपुर एफसी में कई शानदार खिलाड़ी हैं और देखना ये है कि अमरजीत सिंह कियाम, नरेंद्र गहलोत और अनिकेत जाधव जैसे खिलाड़ी उनकी लीडरशिप में किस तरह से ग्रो करते हैं।

कोल का आईएसएल में यह दूसरा सीजन होगा और पहले सीजन के बाद उन्हें अंदाजा लग गया होगा कि इस लीग में कैसे आगे बढ़ना है। अगर जमशेदपुर एफसी कुछ बेहतरीन विदेशी खिलाड़ियों को अपनी टीम में शामिल कर ले तो आने वाले सीजन में वो टॉप-4 में जगह बनाने के प्रबल दावेदार होंगे।