महामारी के कारण लीग तो पहले ही स्थागित कर दिया गया है।

इंग्लिश क्लब आर्सनल के हेड कोच मिकेल आर्टेटा कुछ समय पहले कोरोना वायरस टेस्ट में पॉजिटिव पाए गए थे जिसके कारण उन्हें आइसोलेशन में रखा गया। अब उनका कहना है कि वह बेहतर महसूस कर रहे हैं।

बीबीसी के अनुसार, 37 साल के आर्टेटा इंग्लिश प्रीमियर लीग (ईपीएल) के पहले मैनेजर थे जो पहले कोरोना वायरस टेस्ट में पॉजिटिव पाए। उनका टेस्ट 12 मार्च को किया गया था।

फरवरी में यूरोपा लीग में आर्सनल और ओलम्पियाकोस के बीच मैच खेला गया था। मैच के बाद खबर आई की ग्रीस के क्लब के मालिक का टेस्ट पॉजिटिव आया है और इसके कुछ दिनों बाद आर्टेटा की तबीयत भी बिगड़ने लगी।

दोनों टीमों के बीच यह मुकाबला 10 मार्च को हुआ था और बताया गया कि आर्सनल की टीम अपने मैनेजर सहित ओलम्पियाकोस के मालिक से मिली थी।

आर्टेटा ने कहा, “मुझे अच्छा और मजबूत महसूस करने में तीन या चार दिन लगे। अभी मैं बहुत अच्छा हूं, मुझे लग रहा है कि मैं ​ठीक हो चुका हूं।”

आर्सनल के खिलाड़ियों को आर्टेटा के इलाज के बाद 14 दिन तक आइसोलेशन में रहना था और फिर मंगलवार को ट्रेनिंग पर आना था, लेकिन कोरोना वायरस के कारण उसे स्थगित कर दिया गया है।

लंदन स्थित क्लब ने अपने बयान में कहा, “मौजूदा स्थिति को देखते हुए हमने यह फैसला लिया है कि खिलाड़ियों को ट्रेनिंग पर बुलाना अच्छा नहीं होगा। हमारी फर्स्ट टीम और एकैडमी के खिलाड़ी सभी घर पर ही रहेंगे।”

आर्सनल के कई प्लेयर्स ओलम्पियाकोस के मालिक के पॉजिटिव होने की खबर आने के बाद सेल्फ आइसोलेशन में चले गए थे। 11 मार्च को आर्सनल और मौजूदा चैम्पियन मैनचेस्टर सिटी के बीच ईपीएल का मैच भी स्थिगित कर दिया गया था।

आर्टेटा ने रविवार को कहा था, “ट्रेनिंग के बाद जब मैं कार में था तब मुझे डायरेक्टर्स का कॉल आया और उन्होंने मुझे बताया कि ओलम्पियाकोस के मालिक का टेस्ट पॉजिटिव आया है और जो भी उनके कॉनटेक्ट में था उसे भी रिस्क हैं। मैंने उन्हें बताया कि मैं अच्छा महसूस नहीं कर रहा हूं। जाहिर तौर प रइसके बाद मैं कॉरेनटीन में गया और मैच को स्थिगित करना पड़ा।”