इन टीमों ने जितनी ट्रॉफीज जीती हैं वो हैरान करने वाली हैं।

​फुटबॉल में सभी टीमों का एक ही उद्देश्य होता है और वो है ज्यादा से ज्यादा ट्रॉफीज जीतना। एक ट्रॉफी को जीतने के लिए विभिन्न क्लब काफी मेहनत करती हैं। वो बेहतरीन प्लेयर्स को साइन करती हैं, जबरदस्त रणनीति बनाती हैं और अलग-अलग तरीके से ट्रेनिंग करती हैं, ताकि उनकी टीम बेहतर प्रदर्शन कर सके और चैंपियन बन सके।

वर्ल्ड फुटबॉल की अगर बात करें तो कई सारे क्लब हैं लेकिन सभी उतने सफल नहीं रहे हैं। हालांकि, कुछ क्लबों ने दमदार प्रदर्शन किया है और कई ट्रॉफीज जीती हैं।आइए हम आपको वर्ल्ड के टॉप-5 सबसे सफल क्लबों के बारे में बताते हैं:

5. एटलेटिको पेनारोल – 108 ट्रॉफी

उरुग्वे के क्लब एटलेटिको पेनारोल ने 108 ट्रॉफी जीते हैं और अपने डोमेस्टिक कॉम्पटीशन में काफी सफल रहे हैं। 1900 में आने के बाद 120 सालों से वो जबरदस्त टीम बने हुए हैं और आजतक कभी भी रेलिगेट नहीं हुए हैं। पेनारोल ने 12 प्री लिबेरेशन लीग टाइटल, 11 कॉन्टिनेंटल चैंपियनशिप और तीन इंटरकॉन्टिनेंटल कप (1961, 1962, 1982) जीते हैं।

आपको जानकर ये हैरानी होगी कि पेनारोल ने 1985 में आईएफएल शील्ड का खिताब भी जीता था। उन्होंने फाइनल मुकाबले में यूक्रेन के क्लब शाख्तर डोनेस्क को 1-0 से हराया था। इसके अलावा 2009 में इंटरनेशनल फेडरेशन ऑफ फुटबॉल इतिहास और स्टैटिस्टिक्स ने पेनारोल को ‘साउथ अमेरिकन क्लब ऑफ द सेंचुरी’ चुना था।

4. सेल्टिक एफसी – 110 ट्रॉफी

स्कॉटलैंड की सेल्टिक एफसी भी वर्ल्ड की सबसे सफल क्ल्बों में से एक है। इस क्लब ने लगातार 4 सीजन 3 स्कॉटिश प्रीमियरशिप का खिताब जीता है। 1888 में अपना पहला मैच खेलने वाली सेल्टिक एफसी ने अभी तक 110 टाइटल अपने नाम किए हैं। इसके अलावा 2 बार वो स्कॉटिश लीग चैंपियनशिप के डिफेंडिंग चैंपियन भी हैं और 51 बार इस खिताब को जीता है।

सेल्टिक एफसी ने 39 बार स्कॉटिश कप और 19 बार लीग कप का खिताब भी जीता है। 1867 में इंटर मिलान को फाइनल में 2-1 से हराकर वो यूरोपियन क्लब का तमगा हासिल करने वाली पहली ब्रिटिश क्लब बनी थी।

3. क्लब नेसियोनाल डे फुटबॉल – 113 ट्रॉफी

क्लब नेसियोनाल डे फुटबॉल भी वर्ल्ड की सबसे बेहतरीन क्लबों में से एक है। पिछले साल उन्होंने उरुग्वेयन सुपरकोपा का खिताब भी जीता था और 8 बार लिगुइला का टाइटल जीत चुके हैं। इसके अलावा 17 बार टोरनियो डी होनर, 8 बार कोपा कोम्पेटेंसिया, 7 बार कोपा डी ऑनर और 3 बार लीग मेजर का टाइटल भी जीता है।

इंटरनेशनल फेडरेशन ऑफ फुटबॉल इतिहास और स्टैटिस्टिक्स ने उन्हें इस मिलेनियम के पहले दशक की सबसे बेहतरीन उरुग्वेयन टीम करार दिया था। नेसियोनाल क्लब का इतिहास 121 सालों पुराना है और वो लगातार टॉप पर रहे हैं।

2. रेंजर्स – 115 ट्रॉफी

रेंजर्स एफसी की जो लेगेसी है वो उनके अब तक जीते ट्रॉफीज से मेल खाती है। उनके नाम 115 सिल्वरवेयर्स हैं, उन्होंने सात बार एक ही सीजन में लीग टाइटल, स्कॉटिश कप और लीग कप का खिताब जीता है। 2002-03 में आखिरी बार उन्होंने ये कारनामा किया था।

1971-72 में उन्होंने यूरोपियन कप का खिताब जीता था जो अबतक उनका सबसे बड़ा अचीवमेंट है। उन्होंने लीग कप 27 बार और स्कॉटिश कप 33 बार जीता है। हालांकि, पिछले कुछ सालों से टीम का प्रदर्शन उतना अच्छा नहीं रहा है।

1. अल अहली एससी – 118 ट्रॉफी

इजिप्ट की क्लब अल अहली एससी काफी जबरदस्त टीम है और इस क्लब ने अभी तक कई ट्रॉफी अपने नाम की है। 1907 में स्थापित अल अहली टीम का प्रदर्शन इजिप्टियन प्रीमियर लीग और इजिप्ट कप में काफी अच्छा रहा है। उन्होंने काहिरा लीग का खिताब 16 बार और सुल्तान हुसैन कप की ट्रॉफी 7 बार अपने नाम की है। इसके अलावा अल अहली एससी के नाम 8 सीएएफ चैंपियंस लीग शील्ड का खिताब भी है। वहीं इस टीम ने 6 बार सीएएफ सुपर कप का खिताब भी जीता है।

2006 के फीफा क्लब वर्ल्ड कप में इस टीम ने ब्रॉन्ज मेडल जीता था और 2014 में सीएएफ कन्फेडेरेशन कप का खिताब भी जीता था। ओवरऑल उनका जो रिकॉर्ड है उसे देखते हुए हमने उनको इस लिस्ट में टॉप पर रखा है।

इस आर्टिकल में हमने वर्ल्ड के कुछ सबसे बेहतरीन फुटबॉल क्लब का जिक्र किया जो कि मेनस्ट्रीम पब्लिक से दूर काफी जबरदस्त प्रदर्शन करते हैं। ये आंकड़े हमने ग्लोब्ल टाइम्स से उठाए हैं।