दोनों टीमों ने दमदार खेल दिखाया।

अजय कुमार (11 प्वाइंट) के सीजन के दूसरे सुपर-10 की मदद से गुजरात जाएंट्स ने सोमवार को शेराटन ग्रैंड, व्हाइटफील्ड होटल एवं कन्वेंशन सेंटर में जारी प्रो कबड्डी लीग (पीकेएल) के आठवें सीजन में राइवलरी वीक के दूसरे मैच में हरियाणा स्टीलर्स को 32-26 से हराकर सीजन में अपनी चौथी जीत दर्ज की।  

पिछली बार जब इन दोनों के बीच पीकेएल 8 में मुकाबला हुआ था तब हरियाणा ने मात्र 2 अंक के अंतर से जीत हासिल की थी। लेकिन इस बार गुजरात ने हरियाणा को हराकर पिछली हार का बदला ले लिया। गुजरात की 13 मैचों में यह चौथी जीत है। टीम के खाते में 6 हार और 3 टाई भी है। गुजरात के अब 33 अंक हो गए है और वो अभी भी 11वें नंबर पर ही है।

वहीं, हरियाणा को 15 मैचों में छठी हार का सामना करना पड़ा है। टीम 43 अंकों के साथ चौथे नंबर पर है। राइवलरी वीक में यह दूसरा मैच था और राइवलरी वीक 30 जनवरी से 6 फरवरी तक चलेगा।मुकाबले के शुरू होने के बाद से ही अजय ने लगातार तीन रेड किए और तीन अंक लेकर आए। साथ ही डिफेंस में गिरीश एर्नाक ने भी कुछ अंक लिए। गुजरात ने पांच मिनट के भीतर 5-2 की लीड लेकर अच्छी शुरुआत की। इसी स्कोर पर गुजरात की डू ऑर डाई रेड की बारी आई लेकिन महेंद्र राजपूत 30 सेकेंड की रेड में सफल नहीं हो सके।

लंबे समय बाद मैट पर लौटे रविंदर पहल ने विनय का शिकार कर गुजरात को डिफेंस में तीसरी सफलता दिलाई। हरियाणा के कप्तान विकाश कंडोला 8 मिनट बाद पहली रेड पर आए लेकिन गिरीश ने उन्हें जाने नहीं दिया। हरियाणा के लिए सुपर टैकल आन था और जयदीप ने महेंदर का शिकार कर अपनी टीम को 2 अंक दिलाए। 10 मिनट बाद स्कोर 5-8 था।

हरियाणा ने फिर आगे बेहतरीन वापसी करते हुए अंक बटोरते हुए स्कोर 10-10 से बराबरी पर ला दिया। हालांकि प्रदीप ने फिर दो अंक लेकर गुजरात को दो अंकों की बढ़त दिला दी। गुजरात ने 17वें मिनट में जाकर हरियाणा को ऑल आउट कर दिया और 7 अंकों की लीड लेकर स्कोर को 17-10 तक पहुंचा दिया। इसके बाद अजय कुमार ने बोनस और फिर टच प्वॉइंट लेकर हाफ टाइम तक गुजरात को 7 पॉइंट की लीड दिला दी। हाफ टाइम तक स्कोर 19-12 से गुजरात के पक्ष में था। पहले हाफ में गुजरात के प्रदीप कुमार ने 8 और अजय कुमार ने 5 पॉइंट लिए।

हाफ टाइम के बाद मीतू पहली रेड में आए और वह एक अंक लेकर वापस लौटे। लेकिन फिर अगली ही रेड में महेंद्र राजपूत ने दो अंक लेकर गुजरात के स्कोर को 21-13 तक पहुंचा दिया। इसके बाद कप्तान विकाश कंडोला ने बोनस और रेड प्वाइंट लेकर हरियाणा को दो अंक दिला दिए। 24वें मिनट तक गुजरात के पास 7 अंकों की बढ़त कायम थी।

अगली ही रेड में अजय कुमार ने इस सीजन का अपना दूसरा सुपर 10 पूरा कर लिया। अजय इस मुकाबले में अब तक एक बार भी आउट नहीं हुए थे और उन्होंने आगे भी अपना शानदार प्रदर्शन जारी रखा। हरियाणा ने फिर लगातार अंक लेकर लीड को कम करने की कोशिश की। मुकाबला खत्म होने में पांच मिनट का समय बाकी था और गुजरात के पास छह अंकों की बढ़त थी।

अंतिम मिनटों में भी गुजरात ने अपनी डिफेंस को मजबूत रखते हुए फिर से छह अंकों की बढ़त बना ली। इस दौरान प्रदीप कुमार के पास अपना सुपर 10 पूरा करने का मौका था, लेकिन वे अंक नहीं ले पाए और गुजरात ने 32-26 से मुकाबला जीत लिया। इसके साथ ही गुजरात ने हरियाणा से पिछली हार का बदला भी ले लिया।

दिल्ली ने बड़ी जीत दर्ज की

पीकेएल के आठवें सीजन के राइवलरी वीक के तीसरे मैच में दो महानगरों की जंग में दिल्ली ने बाजी मारी। दिल्ली की टीम ने मुम्बई को 36-30 से हराते हुए अंक तालिका के शीर्ष पर अपनी स्थिति और मजबूत कर ली है।

दिल्ली की 15 मैचों में यह नौवीं जीत है जबकि मुम्बई को 14 मैचों में चौथी हार मिली है। वह पांचवें स्थान पर कायम है। दिल्ली की जीत के नायक रहे विजय मलिक, जिन्होंने कुल 12 अंक जुटाए। नीरज नरवाल ने सब्सीट्यूट के तौर पर खेलते हुए 6 अंक लिए और आशू मलिक ने 8 अंक जुटाए। डिफेंस में मंजीत चिल्लर ने चार अंक लिए।

30 जनवरी से 6 फरवरी तक चलने वाले पीकेएल के राइवलरी वीक के इस बड़े मुकाबले में मुम्बई के लिए कोई खिलाड़ी सुपर-10 या हाई-5 नहीं लगा सका। अभिषेक सिंह ने सबसे अधिक 8 अंक लिए। दोनों टीमें एक-एक बार ऑल आउट हुईं लेकिन असल अंतर दिल्ली के रेडरों ने पैदा किया। उन्होंने 18 के मुकाबले 25 अंक लिए। डिफेंस में हालांकि मुम्बई (10) ने दिल्ली (8) से बेहतर प्रदर्शन किया।

पीकेएल के इस मैच में चार मिनट के बाद स्कोर 3-3 था। दिल्ली ने हालांकि दो लगातार अंकों के साथ दो अंक की लीड ले ली। आठवें मिनट में वी. अजीत कुमार मुम्बा के लिए पहली डू ओर डाई रेड पर गए लेकिन मंजीत छिल्लर ने उनका शिकार कर स्कोर 6-3 कर दिया।

दिल्ली के लिए आशू डू ओर डाई रेड पर गए और दो डिफेंडर साफ कर दिए। मुम्बा के लिए सुपर टैकल आन था। आशू गए लेकिन हरेंदर और फजल ने उनका शिकार कर स्कोर 5-8 कर दिया। फिर अभिषेक सिंह डू ओर डाई रेड पर गए लेकिन मंजीत ने फिर बाजी मार ली।

संदीप दो के डिफेंस में रेड पर गए। डिफेंडरों ने उन्हें लपक लिया। स्कोर 7-9 हो गया था। फिर दिल्ली ने हरेंदर को बाहर कर लीड दो की कर ली। पहले हाफ में तीन मिनट बचे थे और शिवम की बदौलत मुम्बा ने पहले तो 10-10 की लीड ली और फिर 11-10 से आगे हो गए।

दिल्ली ने हालांकि एक अंक लेकर बराबरी की लेकिन इस हाफ की अंतिम रेड से पहले उसने फिर लीड ली लेकिन दिल्ली ने विजय की सफल रेड की बदौलत स्कोर 12-12 कर दिया। दिल्ली हालांकि ऑल आउट की कगार पर थे।

पीकेएल के इस मैच में ब्रेक के बाद अजीत ने जोगिंदर नरवाल को आउट कर और फिर विजय को लपक मुम्बा ने दिल्ली को ऑल आउट कर 16-14 की लीड ले ली। हालांकि विजय ने दिल्ली को दो अंक दिलाए और फासला कम कर दिया। 10 मिनट बचे थे और स्कोर मुम्बा के पक्ष में 23-22 था।

जशनदीप ने बोनस लिया लेकिन उनका शिकार हो गया। इस तरह दिल्ली ने मुम्बा को ऑल आउट कर पांच अंक की लीड ले ली। समय सिर्फ एक मिनट बचा था। आलइन के बाद विजय ने दो अंक लेते हुए अपना तीसरा सुपर-10 पूरा कर दिल्ली की जीत लगभग पक्की कर दी।