अब मैच हारने पर दोनों ही टीमों के प्लेऑफ की उम्मीदें खत्म हो सकती हैं।

प्रो कबड्डी लीग (पीकेएल) में शनिवार को यू-मुम्बा और गुजरात जायंट्स के बीच मुकाबला खेला जाएगा। दोनों ही टीमों के लिए ये मैच करो या मरो वाला है। एक भी मुकाबले में हारने पर टीम प्लेऑफ की दौड़ से बाहर हो सकती है। यू-मुम्बा की टीम पिछले पांच में से चार मुकाबले हार चुकी है और प्लेऑफ की रेस में बने रहने के लिए उन्हें ये मुकाबला हर-हाल में जीतना जरूरी होगा। यू-मुम्बा की टीम अगर अपनी पूरी क्षमता से खेले तो वो गुजरात जायंट्स को कड़ी टक्कर दे सकते हैं। हालांकि इसके लिए उन्हें अपनी पिछली गलतियों को सुधारना होगा। वहीं गुजरात जायंट्स के लिए भी जीत काफी जरूरी है। टीम अगर अपने पूरे मुकाबले जीत भी ले तब भी उनके प्लेऑफ में जाने की संभावना कम ही है लेकिन उनकी संभावनाएं बरकरार रहेंगी।

स्क्वाड

यू-मुम्बा

मुम्बा की टीम इस सीजन बिल्कुल भी एकजुट होकर नहीं खेल पाई है। टीम पूरी तरह से एक या दो प्लेयर्स पर ही निर्भर रहती है। किसी मैच में कोई प्लेयर प्वॉइंट लाता है तो किसी मैच में कोई प्लेयर अच्छा खेलता है। पिछले मुकाबले में कप्तान सुरेंदर सिंह की वापसी हुई और उन्होंने बेहतरीन प्रदर्शन भी किया लेकिन इसके बावजूद टीम को हार का सामना करना पड़ा। इसकी वजह ये रही कि बाकी डिफेंडर्स उनका साथ नहीं दे पाए। यही हाल गुमान सिंह के साथ भी रहा और आशीष और जय भगवान रेडिंग में प्वॉइंट नहीं ला पाए और टीम को हार का सामना करना पड़ा। जैसा हमने पहले जिक्र किया कि टीम एकजुट होकर नहीं खेल पा रही है और उसकी बानगी इस मुकाबले में भी देखने को मिली। हालांकि अब एक और हार उनके लिए प्लेऑफ के दरवाजे बंद कर सकती है।

यू-मुम्बा की संभावित स्टार्टिंग सेवन –

गुमान सिंह, जय भगवान, हरेंद्र कुमार, आशीष, रिंकू, सुरेंदर सिंह और मोहित।

Who is your favourite raider between these two?
Pardeep Narwal
  • 12785 ( 74.76 % )
Rahul Chaudhari
  • 4317 ( 25.24 % )
VS VS

गुजरात जायंट्स

जायंट्स की टीम भले ही टूर्नामेंट से बाहर होने की कगार पर खड़ी है लेकिन पिछले दो मुकाबलों में लगातार जीत के साथ उन्होंने अपने आपको प्लेऑफ की रेस में बनाए रखा है। उन्होंने सही समय पर अपने खेल का स्तर ऊपर उठाया है। सबसे पहले उन्होंने पुनेरी पलटन जैसी बेहतरीन टीम को मात दी और उसके बाद पटना पाइरेट्स को भी हरा दिया। ये जीत उनके लिए टॉनिक का काम कर सकती है और आने वाले मैचों में वो विरोधी टीमों के लिए बड़ा खतरा साबित हो सकते हैं। प्रतीक दहिया भले ही पिछले मुकाबले में नहीं चले लेकिन महेंद्र राजपूत ने 12 प्वॉइंट लाकर टीम को मैच जिता दिया। अब टीम को एक और भरोसेमंद रेडर मिल गया है और ये टीम काफी खतरनाक साबित हो सकती है।

गुजरात जायंट्स की संभावित स्टार्टिंग सेवन –

सोनू, सौरव गूलिया, अरकाम शेख, प्रतीक दहिया, महेंद्र राजपूत, शंकर गदई और संदीप कंडोला।

दोनों टीमों के बीच हेड टू हेड आंकड़े

गुजरात जायंट्स और यू-मुम्बा के बीच अगर हेड टू हेड आंकड़ों की बात करें तो दोनों ही टीमों के बीच अभी तक कुल मिलाकर 11 मैच हुए हैं जिसमें से गुजरात जायंट्स ने छह और यू-मुम्बा को चार ही मुकाबले में जीत मिली है। वहीं दोनों टीमों के बीच एक मुकाबला टाई रहा है। हालांकि इस सीजन यू-मुम्बा की टीम एक मैच में गुजरात को हरा चुकी है।

इन खिलाड़ियों पर होंगी निगाहें

गुजरात जायंट्स की टीम में सारी निगाहें महेंद्र गणेश राजपूत पर होंगी जिन्होंने पिछले मुकाबले में चौंकाने वाला प्रदर्शन किया है। इसके अलावा प्रतीक दहिया से भी काफी उम्मीदें की जा सकती हैं। वहीं यू-मुम्बा की टीम कप्तान सुरेंदर सिंह से एक बार फिर बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद करेगी।

सफलता का मंत्र

यू-मुम्बा को जीत हासिल करने के लिए जरूरी है कि उनके रेडर्स और डिफेंस एक दूसरे को सपोर्ट करें, क्योंकि किसी एक डिपार्टमेंट पर आप अकेले निर्भर नहीं रह सकते हैं। गुजरात जायंट्स के लिए भी डिफेंस को सुधारना काफी जरूरी रहेगा। अगर डिफेंडर्स ने रेडर्स का साथ दिया तो फिर टीम को एक और जीत मिल सकती है।

फैंटेसी के लिए टीम

प्रतीक दहिया, महेंद्र गणेश राजपूत, गुमान सिंह, सौरव गूलिया, रिंकू नरवाल, मोहित और सुरेंदर सिंह।

क्या आप जानते हैं ?

गुजरात जायंट्स की टीम दो बार पीकेएल फाइनल में पहुंच चुकी है लेकिन दोनों ही बार उन्हें हार का सामना करना पड़ा है। वहीं यू-मुम्बा की टीम एक बार पीकेएल का टाइटल जीत चुकी है।

गुजरात जायंट्स और यू-मुम्बा के बीच मैच आप कहां देख सकते हैं ?

दोनों टीमों के बीच आप ये मुकाबला टीवी पर स्टार स्पोर्ट्स नेटवर्क पर देख सकते हैं। इसके अलावा हॉटस्टार पर भी मुकाबलों का प्रसारण होगा।

For more updates, follow Khel Now Kabaddi on FacebookTwitterInstagram and join our community on Telegram.