सभी टीमों के बीच दमदार मुकाबला देखने को मिला।

तीन बार के चैम्पियन पटना पाइरेट्स और तमिल थलाइवाज के बीच गुरुवार को शेराटन ग्रैंड, व्हाइटफील्ड कन्वेंशन सेंटर खेला गया प्रो कबड्डी लीग (पीकेएल) के आठवें सीजन का 36वां मुकाबला हार-जीत के फैसले के बगैर समाप्त हुआ। यह इस सीजन का कुल नौवां टाई मुकाबला है।

पीकेएल के इस मैच का अंतिम स्कोर 30-30 रहा। अंतिम तीन रेड पर टीमों ने कोई रिस्क नहीं लिया औऱ तीन-तीन अंक लेकर खुश रहे। सीजन के पहले टाई मुकाबले ने पटना को 24 अंकों के साथ तालिका में दूसरे स्थान पर पहुंचा दिया है जबकि थलाइवाज चौथी टाई के साथ चौथे स्थान पर हैं।

पहला हाफ पटना के नाम रहा। उसने न सिर्फ 18-12 की लीड के साथ यह हाफ समाप्त किया बल्कि एक बार थलाइवाज को आलआउट भी किया। इस हाफ में पटना के रेडरों ने 8 के मुकाबले 10 अंक लिए जबकि डिफेंस ने चार के मुकाबले छह अंक हासिल किए। मोनू गोयत (8) ने पटना की ओर से रेडिंग टीम की अगुवाई की। कप्तान प्रशांत कुमार राय (4) से उन्हें अच्छा साथ मिला।

डिफेंस में नीरज ने दो अंक लिए जबिक मोहम्मद रेजा और सुनील के नाम एक-एक अंक रहे। मंजीत सिंह की गैरमौजूदगी में इस हाफ में एमएस अतुल और सब्सीट्यूट के तौर पर आए अजिंक्य पवार ने थलाइवाज के लिए रेडिंग में सबसे अधिक चार-चार अंक लिए जबकि डिफेंस का नेतृत्व करते हुए कप्तान सुरजीत सिंह ने तीन अंक जुटाए।

पीकेएल के इस मैच में ब्रेक के बाद पटना ने जहां दो अंक लिए वहीं थलाइवाज ने रेड में दो और टैकल में एक अंक लेकर पटना को आलआउट की तरफ ढकेला। सुरजीत ने इसी बीच अपने करियर में 300 टैकल प्वाइंट्स पूरे किए। पटना के लिए सुपर टैकल आन था। पवार ने अगली रेड पर सचिन को बाहर किया। डू ओर डाई रेड पर आए सब्सीट्यूट गुमान सिंह ने चौंकाते हुए एक अंक लिया।

पवार ने अगली रेड पर दो अंक लेकर पीकेएल के इस सीजन का अपना दूसरा सुपर-10 पूरा किया और फिर थलाइवाज ने पटना से आलआउट का बदला पूरा कर 23-22 की लीड ले ली। भवानी राजपूत ने बड़ी देर बाद हाथ खोला और दो अंक लेकर स्कोर 25-22 कर दिया। मोनू ने अपनी अगली रेड पर सागर को आउट किया। गुमान (4 अंक) ने अपनी अगली रेड पर दो अंक लिए और स्कोर 25-25 कर दिया। डू ओर डाई रेड पर पवार थे और वह दो अंक लेकर गए। प्रशांत ने मैट पर वापसी की। वह लपके गए लेकिन इससे पहले वह बोनस ले चुके थे। मैच में साढ़े चार मिनट बाकी थी और थलाइवाज 1 की लीड पर थे।

थलाइवाज ने सुरजीत के बगैर मोनू को लपक कर एक अंक की लीड ली। रिवाइव होकर डू ओर डाई रेड पर आए इस मैच में एकमात्र सुपर-10 हासिल करने वाले अजिंक्य लपक लिए गए और स्कोर फिर बराबर हो गया। अगली रेड पर सचिन ने फिर अंक लिया और पटना फिर लीड पर था। अतुल (6 अंक) ने अगली रेड पर एक अंक लिया और स्कोर 30-30 कर दिया। सुरजीत (4 अंक) रिवाइव हो चुके थे। सचिन और अतुल के रेड खाली गए। मोनू (9 अंक) मैच की अंतिम रेड पर थे। यह रेड भी खाली गई और इस तरह यह मैच टाई पर समाप्त हुआ। यह पीकेएल के इस सीजन का नौवां, पटना का पहला और थलाइवाज का चौथा टाई रहा।

बेंगलुरु ने जयपुर को मात दी

हाई फ्लायर पवन सेहरावत (18 अंक) के बेहतरीन प्रदर्शन के दम पर बेंगलुरू बुल्स ने पीकेएल के आठवें सीजन के 37वें मुकाबले में पहले सीजन के चैंपियन जयपुर पिंक पैंथर्स को 38-31 से हरा दिया। इस जीत के साथ बुल्स एक बार फिर टेबल टॉपर बन गए हें।

बुल्स की यह सात मैचों में पांचवीं जीत है। दूसरी ओर जयपुर को छह मैचों में चौथी हार मिली है। जयपुर की टीम के रेडर नहीं चले। इसका कारण था कि बुल्स के डिफेंस ने इस मैच में कमाल कर दिया। जयपुर के सबसे सफल रेडर अर्जुन देसवाल ने हालांकि लगातार छठा सुपर-10 पूरा किया। अंतिम समय में जयपुर ने बुल्स को ऑल आउट भी किया लेकिन पहले हाफ के लचर खेल के कारण वह जीत से दूर रह गई।

मैच का पहला हाफ पूरी तरह बुल्स के और खासतौर पर पवन के नाम रहा। इस हाफ के अंत तक बुल्स ने 20-14 की लीड ले रखी थी। इसमें 14 अंक पवन ने जुटाए थे। पवन अपने दो शुरुआती रेड्स में लपके गए थे लेकिन इसके बाद उन्होंने पीछे मुड़कर नहीं देखा और उनकी ही बदौलत बुल्स ने इस हाफ में एक बार जयपुर को ऑल आउट भी किया।

डिफेंस में भी अपने हाथ दिखा चुके पवन ने पहले ही हाफ में अपना इस सीजन का चौथा सुपर-10 पूरा किया। जयपुर ने हालांकि अंतिम मिनट में दो अंक लेते हुए वापसी के संकेत दे दिए हैं लेकिन इसके लिए अर्जुन के अलावा उसके प्रमुख रेडरों और खासतौर पर डिफेंस को चमक दिखानी होगी।

ब्रेक के बाद दीपक डू ओर डाई रेड के साथ बुल्स के पाले में लौटे। सुपर टैकल आन था। इस बार हालांकि वह अंक नहीं ले सके। बुल्स ने दो अंकों के साथ स्कोर 22-14 कर दिया। बुल्स के लिए डू ओर डाई रेड पर आए पवन ने अंक लिया। जीबी मोरे ने दीपक नरवाल को आउट कर पवन को रिवाइव कराया।

पवन हालांकि बुल्स के सुपरस्टार थे। वह आए ओर फिर एक अंक लेकर स्कोर 26-15 कर दिया। दीपक इस बार डू ओर डाई रेड पर आए और लपक लिए गए। वह हालांकि बोनस ले चुके थे। अब सुपर टैकल आन था। पवन ने राइट साइड जंप पर अंक लिया। लीड 12 की हो गई थी। जयपुर के लिए देर से ही लेकिन दीपक और अर्जुन ने अंक लेने शुरू कर दिए थे। नरवाल ने अगली रेड पर पवन को रिवाइव कराया। इसी बीच, देसवाल ने इस सीजन में अपना लगातार छठा सुपर-10 पूरा किया। यह कारनामा सिर्फ दिल्ली के नवीन एक्सप्रेस ही कर सके हैं।

जयपुर के डिफेंस ने अगली रेड पर पवन को लपक लिया। बुल्स ऑल आउट की कगार पर थे। फिर बुल्स को ऑल आउट कर स्कोर 29-38 कर दिया। अंतिम रेड पर जयपुर के हालांकि एक अंक मिला लेकिन वे अपनी चौथी हार को टाल नहीं सके।