“डुबकी किंग” ने अपनी नई टीम को लेकर बड़ी प्रतिक्रिया दी।

प्रो कबड्डी लीग (पीकेएल) में कई सालों से बेहतरीन टैलेंटेड प्लेयर्स खेलते आए हैं। अभी तक कई बेहतरीन प्लेयर्स लीग में खेले हैं, जिन्होंने एक से बढ़कर एक जबरदस्त रिकॉर्ड बनाए हैं। हालांकि इन सबमें सबसे बड़ा नाम जो है वो परदीप नरवाल का है। “डुबकी किंग” के नाम से मशहूर परदीप नरवाल ने पीकेएल के लगभग सारे रिकॉर्ड अपने नाम किए हैं और तीन बार पटना पाइरेट्स को टाइटल भी जिताया।

हालांकि कई सालों तक पटना के लिए खेलने के बाद परदीप नरवाल अब यूपी योद्धा में चले गए हैं। यूपी योद्धा ने ऑक्शन के दौरान उनके लिए सबसे महंगी बोली लगाई और अपनी टीम में शामिल किया। खेल नाओ के साथ एक्सक्लूसिव बातचीत में परदीप नरवाल ने कई चीजों को लेकर अपनी राय दी।

दो साल के बाद पीकेएल की वापसी

कोरोना वायरस की वजह से दो सालों तक प्रो कबड्डी लीग का आयोजन नहीं हो पाया। परदीप नरवाल से पूछा गया कि दो साल तक मैट से दूर रहने का असर प्लेयर्स के ऊपर कितना पड़ा तो इस सवाल के जवाब में उन्होंने कहा, “खिलाड़ियों के ऊपर इतना कोई असर नहीं पड़ा है। भले ही पीकेएल की शुरूआत दो साल बाद हुई है लेकिन हम अपनी स्टेट लीग्स और अन्य लीगों में खेल रहे थे। निश्चित तौर पर हम इससे निराश थे कि पीकेएल का आयोजन नहीं हो पाया लेकिन हमारी प्रैक्टिस लगातार जारी थी और हम दूसरे टूर्नामेंट्स में खेल रहे थे।”

पीकेएल का सबसे महंगा प्लेयर

परदीप नरवाल को सीजन 8 के ऑक्शन के दौरान यूपी योद्धा ने एक करोड़ 65 लाख की रकम में खरीदा। इसके साथ ही परदीप नरवाल पीकेएल इतिहास के सबसे महंगे प्लेयर बन गए। उन्होंने मोनू गोयत का रिकॉर्ड तोड़ा जिन्हें छठे सीजन में हरियाणा स्टीलर्स ने एक करोड़ 51 लाख की रकम में खरीदा था।

उन्होंने पीकेएल का सबसे महंगा प्लेयर बनने को लेकर प्रतिक्रिया देते हुए कहा, “पैसे का कोई प्रेशर मेरे ऊपर नहीं है। मुझे बस अपना नैचुरल गेम खेलना है। मेरे लिए पैसे से ज्यादा महत्वपूर्ण मैट पर मेरा प्रदर्शन है। अपनी टीम को जिताना मेरा लक्ष्य है।”

नई टीम को लेकर राय

पटना पाइरेट्स की तरफ से खेलते हुए परदीप नरवाल ने कई सारे रिकॉर्ड तोड़े और काफी मशहूर हुए। हालांकि इस सीजन वो एक नई टीम का हिस्सा हैं। परदीप नरवाल ने बताया कि नई टीम में आकर उन्हें कैसा महसूस हो रहा है।

उन्होंने कहा, “मुझे यूपी योद्धा में आकर काफी खुशी महसूस हो रही है। सभी खिलाड़ी काफी शानदार हैं और हम एक फैमिली की तरह रहते हैं। हमारे कोच हमें अपने बेटे की तरह रखते हैं और मेरा अनुभव अभी तक काफी शानदार रहा है।”

बिना फैंस के खाली स्टेडियम में खेलना

ये पहली बार है जब प्रो कबड्डी लीग के मैचों का आयोजन बिना किसी फैंस के खाली स्टेडियम में हो रहा है। कोरोना वायरस की वजह से मैचों का आयोजन सिर्फ एक ही जगह हो रहा है। परदीप नरवाल ने इस बारे में कहा, “हमें इस बात का दुख है कि फैंस स्टेडियम आकर हमारा मैच नहीं देख सकते हैं। हालांकि हम चाहते हैं कि फैंस अपने घरों से हमें लगातार सपोर्ट करते रहें।”

यूपी योद्धा की टीम कितनी तैयार है ?

तीन बार के पीकेएल चैंपियन परदीप नरवाल ने यूपी योद्धा की टीम को लेकर भी प्रतिक्रिया दी और बताया कि यूपी की टीम क्यों टाइटल जीतने की प्रबल दावेदार है। उन्होंने कहा, “हमारी टीम वास्तव में काफी शानदार है। हमारा डिफेंस और रेडिंग डिपार्टमेंट काफी बेहतरीन है। भले ही शुरूआती मैचों में हमारा परफॉर्मेंस उतना अच्छा नहीं रहा लेकिन आने वाले मुकाबलों में हम बेहतर परफॉर्म करेंगे। हमारी टीम काफी युवा है। मैं बोनस पर काम कर रहा हूं। मैं इससे पहले बोनस नहीं लेता था लेकिन कोच ने मुझे बोनस प्वॉइंट भी लाने की सलाह दी है।”