कई देशों के खिलाड़ियों का पीकेएल नीलामी में भाग लेना बताता है कि कबड्डी की लोकप्रियता बढ़ती जा रही है।

प्रो कबड्डी लीग सीजन 9 के आयोजन का दिन नजदीक आता जा रहा है। पीकेएल देश की और कबड्डी का चोटी का लीग है जिसमें देश और विदेश के स्टार खिलाड़ी 12 फ्रेंचाइजियों के साथ जुड़कर खिताब के लिए भिड़ते हैं। सीजन के आधिकारिक रूप से शुरू होने से पहले पिछले हफ्ते इन खिलाड़ियों के लिए हुई ऑक्शन में जमकर बोली लगी। 

यह देखना दिलचस्प है कि प्रो कबड्‍डी लीग कि लोकप्रियता ना सिर्फ भारत में बल्कि विदेशों में भी बढ़ती जा रही है। कबड्डी को कई देश में हाथों–हाथ लिया जा रहा है और वो एक से बढ़कर एक स्टार खिलाड़ी तैयार भी कर रहे हैं। ये खिलाड़ी पीकेएल का हिस्सा भी हैं। परंपरागत तौर पर भारत, ईरान, और अन्य को अलावा दक्षिण कोरिया, कीनिया, और थाईलैंड के साथ-साथ और देश भी कबड्डी के टॉप क्लास के खिलाड़ी तैयार कर रहे हैं। 

ऐसे ही विदेशी खिलाड़ियों और उनके संबंधित देशों पर एक नजर जिनके लिए हाल में ही संपन्न पीकेएल ऑक्शन 9 में लगी बोली: 

ईरान

ऑक्शन में विदेशी खिलाड़ियों में सबसे ज्यादा संख्या ईरानी खिलाड़ियों की रही। ईरान में कबड्डी परंपरागत तौर पर काफी लोकप्रिय खेल है औऱ इस देश का शुमार चोटी के देशों में होता है। इन खिलाड़ियों का प्रदर्शन काफी शानदार रहा है और इसलिए नीलामी में इनके लिए काफी होड़ लगी। नीलामी में बिके खिलाड़ियों की पूरी लिस्ट:

हादी ओश्तोरक, फ़ज़ल अत्राचली, मोहम्मद नबीबख्श, अबोजार मोहाजरमिघानी, अमीरहोसिन बस्तमी, घोलमबास कोरौकी, हामिद मिर्जाई नादर, मोहम्मदस्माइल मघसौदलू महली, मोहसेन मघसौदलू, रेज़ा के, रेज़ा एम, सोलेमान पहलवानी, मोहम्मद तघी पेन महली, इमरान मदादी, मोहम्मद घोरबानी।

दक्षिण कोरिया

जहां तक पूर्वी एशियाई देशों में कबड्डी लोकप्रियता की बात है तो यह अभी प्रारंभिक चरण में है। इन्हीं देशों में दक्षिण कोरिया उन चुनिंदा देशों में से एक है जहां यह खेल बहुत तेजी से बढ़ रहा है। जानिए कोरिया के उन खिलाड़ियों के बारे में पीकेएल 9 के लिए लगी नीलामी का हिस्सा रहे:

डोंग जियोन ली, वूसन को, यंग चांग को, जंग वू ली, जोंग हूं चोई, जुहवान किम।

श्रीलंका

श्रीलंका की खेलों में जबरदस्त भागीदारी रही है और अब कबड्डी की भी लोकप्रियता नई पीढ़ी के बीच बढ़ती जा रही है। इन्हीं खिलाड़ियों की पूरी लिस्ट जो पीकेएल नीलामी 9 में अपने देश का प्रतिनिधित्व कर रहे थे:

असलम साजा, थानुशन लक्ष्मणमोहन, संदुन निरुधा पी. वाई. पथिरनालगे, आशान मिहिरंगा।

थाईलैंड

पीकेएल 9 की नीलामी में थाईलैंड के केवल एक खिलाड़ी हिस्सा रहे लेकिन उनका कोई खरीददार नहीं मिला। 

टिन फोन्चू

केन्या

केन्या की कबड्डी में मजबूत पकड़ है और अफ्रीका में सबसे ज्यादा कबड्डी खिलाड़ी केन्या से ही आते हैं। इस देश के वो खिलाड़ी जो नीलामी का हिस्सा थे:

डेनियल ओधिमाबो, जेम्स कामवेती, हेलविक सिमुयू वंजाला, सैमुअल वंजाला वफुला, हाग्गै ओडिआम्बियो ओगाक, डेविड शिलिसिया मोसांबाय, विक्टर ओनयांगो ओबिएरो।

बांग्लादेश

भारतीय उपमहाद्वीप में कबड्डी की लोकप्रियता के कारण हमारा पड़ोसी बांग्लादेश इस खेल में एक मजबूत देश है। ये हैं नीलामी में बांग्लादेश का प्रतिनिधित्व करने वाले खिलाड़ी:

मोहम्मद आरिफ रब्बानी, मोहम्मद लिटन अली, मोहम्मद हसीबुल हुसैन, मोहम्मद मिजानुर रहमान, मोहम्मद रबीउल आलम, मोहम्मद शरीफ मियां, मोहम्मद शाजिद हुसैन।

नेपाल

नेपाल के दो खिलाड़ी भी नीलामी का हिस्सा थे:

लाल मनोहर यादव, नागशोर थारू।

मलेशिया

मलेशिया में कबड्डी की बढ़ती लोकप्रियता की वजह से देश के दो खिलाड़ी नीलामी का हिस्सा रहने में सफल रहे:

खतरवन मरिअप्पन, मुगिलन बटुमलाई

जापान

पीकेएल 9 नीलामी में जापान का एक खिलाड़ी भी शामिल रहा लेकिन उनका कोई खरीददार नहीं मिला:

ह्युमा कुराशिमा

कुल मिलाकर भारतीय खिलाड़ियों को ईरान, बंग्लादेश, केन्या, और श्रीलंका से ज्यादा टक्कर मिल रही है और आने वाले समय में टक्कर जबरदस्त होगी। 

For more updates, follow Khel Now Kabaddi on Facebook, TwitterInstagram and join our community on Telegram.