पाइरेट्स की यह आठ मैचों में छठी जीत है।

अपने तीन युवा खिलाड़ियों-डिफेंडर नीरज (8 अंक) और मोहम्मदरेजा शादलू (5) और रेडर सचिन तंवर (7 अंक) के उम्दा प्रदर्शन के दम पर तीन बार के चैंपियन पटना पाइरेट्स ने प्रो कबड्डी लीग (पीकेएल) के आठवें सीजन के 47वें मुकाबले में मंगलवार को यू मुम्बा को 43-23 से हरा दिया।  

पटना की यह आठ मैचों में छठी जीत है। इसी के साथ वह फिर से टेबल टॉपर बन गई है। पटना के लिए नीरज और सचिन के अलावा कप्तान प्रशांत राय ने 7 अंक लिए। मुम्बा के लिए अभिषेक सिंह ने सबसे अधिक 8 अंक लिए। मुम्बा की आठ मैचों में दूसरी हार है। यह टीम अभी भी पांचवें स्थान पर है। 

मैच की शुरुआत में ही पटना को डू ओर डाई रेड पर जाना पड़ा। कप्तान प्रशांत राय ने इसकी अगुवाई की और दो अंक लेकर आए। पटना ने जल्द ही मुम्बा को सुपर टैकल की स्थिति में डाल दिया। फिर पटना ने मुम्बा को छठे मिनट में ऑल आउट कर 10-3 की लीड ले ली। पटना यही नहीं रुकी। उसने लगातार चार अंक ले 13-3 की लीड ले ली।  

हालात फिर बदले और मुम्बा के लिए फिर से सुपर टैकल आना था। मुम्बा के डिफेंस ने मोनू गोयत को सुपर टैकल कर अपना खाता खोला और स्कोर 5-14 कर दिया। फिर डिफेंस लगातार दो अंक लेकर वापसी के संकेत दे दिए। डू ओर डाई रेड पर अभिषेक को लपक कर नीरज ने हालांकि स्कोर 16-7 किया। अब पटना के लिए डू ओर डाई रेड पर सचिन थे। सचिन ने फजल को आउट कर लीड 10 की कर दी। 

मुम्बा के लिए फिर सुपर टैकल आना था। मुम्बा के लिए सब्सीट्यूट शिवम डू ओर डाई रेड पर थे। वह कुछ कर पाते, इससे पहले सुनील ने उन्हें लपक लिया। सुपर टैकल की स्थिति में सचिन डू ओर डाई रेड पर थे। एक डिफेंडर सेल्फ आउट हुआ लेकिन रिंकू ने अपने दम पर सचिन को सुपर टैकल कर मुम्बा को 2 अंक दिलाए। बावजूद इसके हाफ टाइम तक स्कोर 19-9 से पटना के हक में था। 

ब्रेक के बाद नीरज ने प्रताप एस. को लपका और अपना हाई-5 पूरा किया। फिर पटना ने मुम्बा को दूसरी बार ऑल आउट कर 23-9 की लीड ले ली। अभिषेक ने अगली रेड पर बोनस लिया और फिर प्रशांत ने दो डिफेंडरों को बाहर कर स्कोर 25-10 कर दिया। अभिषेक फिर लपके गए। वह अब तक चार बार आउट हो चुके हैं। नीरज ने अपना छठा और टीम का 27वां अंक लिया। 

इसके बाद मुम्बा ने डू ओर डाई रेड पर सचिन को लपका। फिर मोहम्मदरेजा शादलू ने टीम को 10वां टैकल प्वाइंट दिलाया। अगली रेड पर मोनू बिना टच के लाबी में गए और फजल सेल्फ आउट हुए। दोनों को 1-1 अंक मिला। फिर अभिषेक ने शादलू को बाहर किया। अगली रेड पर सचिन ने दो अंक लिए। अब स्कोर 31-14 था। 

पटना के लिए सुपर टैकल आना था। शादलू ने अभिषेक को डैश कर दे अंक दिलाए लेकिन लाबी से बाहर जाने के कारण वह भी आउट हुए। पटना पहली बार ऑल आउट की कगार पर थे लेकिन प्रशांत ने फजल और मोहसिन को बाहर कर ऑलआउट टाल दिया। सुपर टैकल अभी भी आन था। अभिषेक ने अगली रेड पर प्रशांत को बाहर किया। स्कोर 35-22 था।  

पटना ने अगली रेड पर अभिषेक और फिर मोहसिन को सुपर टैकल कर स्कोर 39-22 कर अपनी टीम की जीत पक्की कर दी। पटना की टीम यही नहीं रुकी। उसने रेड में एक और डिफेंस में तीन अंक लेकर स्कोर 43-23 कर मुम्बा को पांच मैचों के बाद पहली हार पर मजबूर किया। 

गुजरात जायंट्स ने तेलुगु टाइटंस को हराया

गुजरात की टीम पीकेएल सीजन 8 में छह मैचों के बाद आखिरकार जीत की पटरी पर लौट आई है। उसने प्रो कबड्डी लीग (पीकेएल) के आठवें सीजन के 48वें मुकाबले में मंगलवार को तेलुगू टाइटंस को 40-22 से हरा दिया। टाइटंस को इस सीजन में अभी भी जीत का इंतजार है। 

दोनों का यह आठवां मैच था। गुजरात की जीत में एचएस राकेश (16 अंक) की अहम भूमिका रही। साथ ही उसके डिफेंस ने कुल 13 अंक लेते हुए अपनी टीम को जीत की पटरी पर वापसी कराई। टाइटंस की यह पीकेएल सीजन 8 की छठी हार है। उसके हिस्से दो टाई भी हैं। टाइटंस के लिए रजनीश (12 अंक) ने सुपर-10 पूरा किया लेकिन डिफेंस की नाकामी उसे भारी पड़ गई। टाइटंस के डिफेंस को पूरे मैच में सिर्फ पांच अंक मिले। 

शुरुआत में दोनों टीमें सेफ खेल रही थीँ। शुरुआती चार मिनट के बाद स्कोर 3-3 था। गुजरात के डिफेंस ने हालांकि इसके बाद रजनीश को दो अंक दे दिए। महेंद्र राजपूत ने डू ओर डाई रेड पर दो अंक लेकर स्कोर 5-5 कर दिया। टाइटंस ने अगले रेड पर एक अंक लिया लेकिन एचएस राकेश ने सुपर रेड के साथ गुजरात को 8-6 की लीड दिला दी। 

गुजरात के डिफेंस ने नौवें मिनट में राकेश गौड़ा को लपक कर पहली सफलता हासिल की। टाइटंस के लिए सुपर टैकल आन था। राकेश डू ओर डाई रेड पर थे। उन्हें दो अंक मिले और गुजरात की लीड 12-7 की हो गई। आदर्श आखिरी खिलाड़ी थे। उन्हें लपक कर गुजरात ने टाइटंस को ऑल आउट किया। स्कोर अब 15-8 हो गया था। 

गुजरात ने बीते पांच मिनट में 10 अंक हासिल किए हैं। टाइटंस के डिफेंस ने डू ओर डाई रेड पर महेंद्र को लपक 16 मिनट बाद अपना खाता खोला। अगली रेड पर रजनीश ने टाइटंस को एक और अंक दिलाया। राकेश ने अपने दूसरे सुपर रेड के साथ सीजन का दूसरा सुपर-10 पूरा किया। फिर रजनीश ने टाइटंस के लिए मल्टी प्वाइंट रेड किया।  

पहला हाफ 20-13 स्कोर के साथ गुजरात के नाम रहा। यह हाफ पूरी तरह रेडरों के नाम रहा। दोनों टीमों के डिफेंडरों ने सिर्फ चार अंक लिए हैं। गुजरात के लिए राकेश और टाइटंस के लिए रजनीश तुरुप का इक्का हैं। मैच इन्हीं पर टिका है। फिलहाल आदर्श ने डू ओर डाई रेड पर राकेश नरवाल को बाहर किया। फिर महेंद्र ने गुजरात को डू ओर डाई रेड पर अंक दिलाया। अगली रेड पर गुजरात के डिफेंस ने रजनीश को लपक लिया। 

आदर्श 15-23 के स्कोर पर फिर डू ओर डाई रेड पर थे। उन्होंने फिर अंक लिया। अगली रेड पर महेंद्र ने बोनस लिया लेकिन फिर वह लपक लिए गए। रजनीश ने उन्हें लपका और फिर राकेश को आउट कर पीकेएल सीजन 8 का अपना दूसरा सुपर-10 पूरा किया। स्कोर 18-25 था। अब गुजरात के लिए सुपर टैकल आन था। रतन ने पहले बोनस लिया और फिर रजनीश को सुपर टैकल कर स्कोर 27-18 कर दिया।  

टाइटंस के डिफेंस ने रतन को लपका और फिर रजनीश ने रेड में अंक लिया। स्कोर 20-29 हो गया था। गुजरात के लिए सुपर टैकल आन था। परवेश भैंसवाल ने अंकित बेनीवाल को डैश कर गुजरात के लिए सुपर टैकल किया। स्कोर 31-20 हो गया था। इसके बाद गुजरात ने रेड और डिफेंस में एक-एक अंक लिया। 

गुजरात ने 18वें मिनट में टाइटंस को दूसरी बार ऑल आउट कर 39-21 की लीड लेकर अपनी दूसरी जीत पक्की कर ली लेकिन टाइटंस को जीत का खाता खोलने के लिए पीकेएल सीजन 8 के अगले मैच का इंतजार करना होगा।