पिंक पैंथर्स के लिए स्टार रेडर अर्जुन देसवाल ने 17 अंक लिए।

पहले सीजन के चैंपियन जयपुर पिंक पैंथर्स ने बड़ी जीत के साथ जीत की पटरी पर वापसी की है। जयपुर ने प्रो कबड्डी लीग (पीकेएल) के आठवें सीजन के 82वें मैच में रविवार को तीन बार के चैंपियन पटना पाइरेट्स को 51-30 के भारी भरकम अंतर से हरा दिया। 

यह इस पीकेएल सीजन में 14 मैचों में जयपुर की छठी जीत है। दूसरी ओर पटना को 13 मैचों में चौथी हार मिली है। पटना की हार का कारण उसका डिफेंस रहा। उसने सिर्फ 6 अंक लिए। रेडरों ने हालांकि सराहनीय प्रदर्शन करते हुए 24 अंक लिए। पटना की टीम तीन बार ऑल आउट हुई। उसके लिए गुमान सिंह ने सब्सीट्यूट के तौर पर खेलते हुए सुपर-10 पूरा किया। 

दूसरी ओर, जयपुर के लिए स्टार रेडर अर्जुन देसवाल ने एक बार फिर अपनी चमक दिखाते हुए पीकेएल मैच में 17 अंक लिए जबकि दीपक हुड्डा ने -8 अंक लिए। जयपुर के डिफेंस ने बेहतरीन खेल दिखाते हुए 14 अंक लिए, जिसका नेतृत्व कप्तान संदीप धुल (5 अंक) ने किया। इसके अलावा विशाल ने भी 5 अंक लिए। 

जयपुर ने ढाई मिनट के बाद शानदार शुरुआत करते हुए 5-0 की लीड ले ली। अर्जुन देसवाल ने तीसरी कामयाबी हासिल करते हुए पटना को सुपर टैकल की स्थिति में डाल दिया। मोनू गोयत ने रनिंग हैंड टच पर अंक लेकर इस मुश्किल से निकाला लेकिन देसवाल ने मोहम्मदरेजा शादलू को आउट कर फिर से वही स्थिति ला दी। 

आलइन के बाद मोनू ने एक अंक लिया। हालांकि अगली रेड पर वह डैश कर दिए गए। जयपुर के डिफेंस ने फिर सचिन को आउट कर लीड 11 की कर दी। पीकेएल सीजन 8 के मैच में 13 मिनट बीतने के बाद भी पटना के डिफेंस का खाता नहीं खुला था। जो अंक आए वह रेड में। जल्द ही जयपुर ने 18-4 की लीड ले ली। 

ब्रेक के बाद भी पटना के लिए कुछ ही बदला। अर्जुन और दीपक ने पटना को फिर से ऑल आउट की कगार पर ढकेला। स्कोर 29-11 था लेकिन सचिन ने अगली रेड पर दो अंक जुटा लिए। पटना ने हालांकि सुपर टैकल की स्थिति में दीपक को आउट कर 22 मिनट बाद डिफेंस में खाता खोला।  

पटना की टीम हालांकि ऑल आउट नहीं बचा सकी। देसवाल ने 16वें रेड में 15वां अंक लेकर पटना को पीकेएल मैच में तीसरी बार ऑल आउट कर जयपुर को 36-17 की लीड दिला दी। पटना ने अंतिम 10 मिनट में बेहतर प्रदर्शन किया।  इसी दौरान जयपुर के विशाल ने हाई-5 पूरा किया और पटना के गुमान ने भी सुपर-10 लिया लेकिन वह अपनी टीम को एकतरफा हार से नहीं बचा सके। 

बुल्स की ओर से पवन सेहरावत ने 9 अंक बटोरे

बेंगलुरू बुल्स को हराने के लिए तमिल थलाइवाज को शायद राइवलरी वीक जैसे किसी खास मौके का इंतजार था। बुल्स के खिलाफ लगातार सात हार झेलने वाली थलाइवाज ने प्रो कबड्डी लीग (पीकेएल) के आठवें सीजन में राइवलरी वीक के पहले और कुल 83वें मैच में बुल्स को 42-24 के भारी भरकम अंतर से हरा दिया। 

इस मैच के बाद इतना जरूर तय हो गया है कि 6 फरवरी तक चलने वाले राइवलरी वीक में कई और जोरदार मुकाबले होंगे। इस मैच में थलाइवाज छह मिनट के बाद 2-6 से पीछे लेकिन हाफ टाइम तक 21-8 से आगे हो गए थे। दूसरे हाफ में भी थलाइवाज ने अपने डिफेंस की बदौलत अच्छा प्रदर्शन जारी रखते हुए इस पीकेएल सीजन की चौथी जीत हासिल की। 

थलाइवाज की जीत में अजिंक्य पवार (10), मंजीत (8), डिफेंडर सागर (5) और एम. अभिषेक (4) का बेहतरीन योगदान रहा। थलाइवाज के डिफेंस ने 17 अंक लिए। दूसरी ओर, बुल्स की ओर से उसके सबसे बड़े स्टार पवन सेहरावत और भरत ने क्रमशः 9 और 5 अंक बटोरे। 

थलाइवाज का डिफेंस दहाड़ रहा था। उसे इस हाफ में पवन सेहरावत को लगातार चार बार आउट किया। साथ ही थलाइवाज के रेडरों ने खुलकर अंक बटोरे। इस हाफ में थलाइवाज के डिफेंस ने 10 अंक लेते हुए इस सदर्न डर्बी में अपनी टीम का झंडा बुलंद रखा। 

ब्रेक के बाद पवन ने एम. अभिषेक को दूसरी बार आउट कर अपना प्रतिशोध पूरा किया। कारण, इससे पहले अभिषेक ने उन्हें दो बार लपका था। अजिंक्य ने डू ओर डाई रेड पर बोनस लिया और फिर सुरजीत ने रंजीत को डैश किया लेकिन वह भी आउट हो गए। स्कोर 24-10 था। 

फिर अगली रेड पर मंजीत ने पवन को बाहर कर बड़ी सफलता हासिल की लेकिन भरत ने जल्द ही उन्हें रिवाइव करा लिया। हालांकि सागर ने अगली रेड पर भरत को एडवांस टैकल कर लिया। अगली रेड पर अभिषेक ने फिर पवन का शिकार किया। स्कोर 30-12 से थलाइवाज के पक्ष में था। 

पवन ने फिर थलाइवाज के कप्तान सुरजीत को आउट किया। अगली रेड पर पवन ने अभिषेक का शिकार कर हिसाब बराबर किया। अगली रेड पर हालांकि साहिल गुलिया ने पवन को पटक दिया। फिर सागर ने भरत को लपक इस पीकेएल सीजन का अपना सातवां हाई-5 पूरा किया।  

पवार ने अगली रेड पर सुपर-10 पूरा किया और बुल्स को चौथी बार ऑल आउट की कगार पर धकेला। हालांकि दीपक ने अभिषेक को बाहर कर इसे टाला और फिर पवन ने पवार को सुपर टैकल किया लेकिन तब तक उनकी टीम बहुत बड़े फासले से हार चुकी थी।