दोनों टीमों ने दमदार जीत दर्ज की।

हरियाणा स्टीलर्स ने लगातार तीसरी जीत के साथ शेराटन ग्रैंड, व्हाइटफील्ड होटल एवं कन्वेंशन सेंटर में जारी प्रो कबड्डी लीग (पीकेएल) के आठवें सीजन की अंक तालिका में दूसरा स्थान हासिल कर लिया है। हरियाणा ने आशीष (16 अंक) के आलराउंड प्रदर्शन के बूते सीजन के 102वें मैच में मंगलवार को तमिल थलाइवाज को 37-29 से हरा दिया।

18 मैचों में 58 अंकों के साथ दूसरे स्थान पर काबिज हरियाणा के लिए तीन सुपर रेड लगाने वाले आशीष के अलावा कप्तान विकाश कंडोला ने भी बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए आठ अंक लिए। थलाइवाज के लिए मंजीत ने 10 अंक जुटाए जबकि अजिंक्य पवार ने 8 तथा डिफेंस में सुरजीत ने चार अंक लिए लेकिन वे अपनी टीम को सीजन की छठी हार से नहीं बचे सके।

पहले हाफ की समाप्ति तक स्कोर 15-12 से हरियाणा के पक्ष में था। सातवें मिनट में थलाइवाज को आलआउट कर हरियाणा ने 10-2 की लीड बनाई थी लेकिन थलाइवाज ने अपने स्टार रेडर मंजीत, अजिंक्य पवार और इस सीजन के सबसे सफल डिफेंडर सागर की बदौलत जोरदार वापसी कर पहले स्कोर 5-11 और फिर 9-13 कर दिया।

ब्रेक के बाद आशीष ने पहले डिफेंस और फिर रेड में लगातार दो अंक लेकर हरियाणा की लीड 6 की कर दी। थलाइवाज ने हालांकि लगातार चार अंकों के साथ फासला दो का कर दिया। आशीष ने एक बार फिर कमाल किया और सुपर रेड के साथ थलाइवाज की वापसी के प्रयास पर पानी फेर दिया।

अब लीड पांच की हो गई थी। अजिंक्य ने लगातार दूसरी बार डू ओर डाई रेड पर अंक लिया। इस बीच सागर के साथ अपनी जंग में विकाश ने दूसरी बार बाजी मारी और स्कोर 22-17 कर दिया। फिर सात के डिफेंस में स्टीलर्स ने मंजीत को लपका लेकिन डिफेंडर के भी लाबी के बाहर जाने के कारण दोनों टीमों को एक-एक अंक मिला। 10 मिनट बचे थे और हरियाणा को पांच अंकों की लीड मिली हुई थी। विकाश ने एमएस अतुल को आउट कर थलाइवाज को सुपर टैकल की स्थिति में डाल दिया। अजिंक्य ने बोनस लिया लेकिन फिर मोहित ने विकाश के खिलाफ गलती कर इसकी भरपाई कर दी।

पवार को आउट करने के बाद आशीष ने सागर को चकमा दिया और फिर थलाइवाज को दूसरी बार आलआउट कर स्कोर 31-25 कर दिया। सागर ने हालांकि विनय को लपक थलाइवाज को एक अंक दिलाया। फिर मंजीत ने रनिंग हैंड टच के साथ स्कोर 27-31 कर दी।

एक मिनट बचे थे और हरियाणा की लीड 6 की थी। अंतिम पलों में आशीष ने एक और सुपर रेड को अंजाम दिया और अपनी टीम को शानदार जीत के साथ अंक तालिका में दूसरे स्थान पर पहुंचा दिया।

पटना ने मुंबई को हराया

तीन बार के चैंपियन पटना पाइरेट्स ने मंगलवार को शेराटन ग्रैंड, व्हाइटफील्ड होटल एवं कन्वेंशन सेंटर में खेले गए पीकेएल के आठवें सीजन के 103वें मैच में यू मुम्बा को 47-36 से हराकर अंक तालिका के शीर्ष पर खुद को मजबूत कर लिया है।

पटना को 17 मैचों में 12वीं जीत मिली है जबकि मुम्बा को इतने ही मैचों में छठी हार मिली। पटना की जीत में सचिन तंवर (16 अंक) के अलावा गुमान सिंह (11 अंक) अहम योगदान रहा। अभिषेक सिंह ने मुम्बा के लिए 13 अंक लिए जबकि अंतिम पलों में वी अजीत कुमार ने भी अपना सुपर-10 पूरा किया लेकिन इनके प्रयास टीम के लिए नाकाफी साबित हुए।

बहरहाल, कप्तान प्रशांत कुमार राय, सचिन और गुमान की सफर रेड्स की बदौलत पटना ने चार मिनट के खेल के बाद ही 5-1 की लीड ले ली। फिर गुमान ने मल्टी प्वाइंट रेड के साथ लीड 8-1 कर दी। मुम्बा ऑलआउट के करीब थे लेकिन अभिषेक सिंह ने सुपर रेड के साथ न सिर्फ अपना खाता खोला बल्कि स्कोर भी 4-8 कर दिया।

पटना ने हालांकि इसके बाद मुम्बा को आलआउट कर 13-4 की लीड ले ली। इसके बाद मुम्बा ने वापसी की और स्कोर 10-14 कर दिया। फिर अभिषेक ने लगातार तीसरे रेड अंक के साथ पटना को आलआउट की कगार पर धकेला और इसे अंजाम देकर स्कोर 14-16 कर दिया।

ब्रेक के बाद पटना ने चार जबकि मुम्बा ने दो अंक लिए। स्कोर 30-20 था। अब मुम्बा के लिए सुपर टैकल आन था। सचिन डू ओर डाई रेड पर गए लेकिन उनका सुपर टैकल हो गया। फिर शिवम ने गुमान को भी बाहर कर अभिषेक को रिवाइव कराया। स्कोर अब 23-30 था।

मोनू ने हालांकि डू ओर डाई रेड पर पटना को तीन अंक दिलाकर लीड 10 की कर दी। मुम्बा तीसरी बार आलआउट की कगार पर थे। शिवम ने रिवाइव होकर आए सचिन को डैश कर दो अंक दिलाए। अबकी बार मुम्बा आलआउट नहीं बचा सके और अब पटना को 38-27 की लीड मिल चुकी थी। आलइन के बाद अभिषेक ने लगातार दूसरा रनिंग हैंड टच लेकर पटना को दबाव में डालने की कोशिश की लेकिन सचिन ने अगली रेड पर उनका शिकार कर लिया। ढाई मिनट बचे थे और स्कोर 43-31 से पटना के हक में था। फिर रिंकू ने गुमान को लपक लिया। फिर अजीत ने इसके बाद लगातार कई अंक लिए लेकिन सचिन ने सुपर रेड के साथ उनके तमाम प्रयासों पर पानी फेर दिया।