प्रो कबड्डी लीग (पीकेएल) 2015 के चैंपियन यू मुंबा सीजन 8 में अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन नहीं कर पाई। फजल अत्राचली के नेतृत्व में खेलते हुए, मुंबई की फ्रेंचाइजी प्लेऑफ के लिए क्वालीफाई करने में विफल रही। टीम ने 22 मैचों में से केवल सात मैचों में जीत के साथ प्वाइंट्स टेबल में 10वें स्थान पर रही।

यू मुंबा जो अभी भी अपने दूसरे पीकेएल खिताब की तलाश में है। महाराष्ट्रीयन पोशाक जो पीकेएल के पहले तीन फाइनल में दिखाई दिया था। इस आर्टिकल में जानेंगे यू मुंबा टीम की प्रोफाइल को।

 दूसरे सीजन के चैंपियन 22 मैचों में से केवल 55 प्वाइंट्स प्राप्त करने के बाद पिछले सीज़न के लीग में 10 वें स्थान पर रहे। पिछले सीजन से पहले सात में से पांच बार नॉकआउट दौर के लिए क्वालीफाई करने वाली ऑरेंज आर्मी ने अपने सबसे कम गेम-पॉइंट टैली को दर्ज किया था।

पिछले सीजन नही कर पाए कोई कमाल :

 यू मुंबा की टीम पिछले सीजन प्लेऑफ़ क्वालीफाई करना पहले चरण में संभव लग रहा था, हालांकि कप्तान फ़ज़ल और खिलाड़ियों अपने सभी अंतिम चार मैच हार गए और प्रतियोगिता से बाहर हो गए।

 प्रो कबड्डी 2022 नीलामी से पहले यू मुंबा ने अपने कप्तान फज़ल अत्राचली और उप-कप्तान अभिषेक सिंह को रिलीज कर दिया। फैंस को उम्मीद थी कि टीम नीलामी में दोनों में से कम से कम एक को रिटेन कर सकते हैं लेकिन मुंबई की फ्रेंचाइजी ने उन्हें वापस लाने में कोई दिलचस्पी नहीं दिखाई।

युवा रेडर्स क्या दिखा पाएंगे कमाल :

यू मुंबा के रेडिंग यूनिट में इस सीजन युवा जोश है। यह जानकर थोड़ी हैरानी होगी कि टीम के नंबर 1 रेडर ने अभी तक पीकेएल में केवल 100 रेड पॉइंट बनाए हैं। गुमान सिंह पिछले सीजन में पटना पाइरेट्स के साथ खेले थे लेकिन वह टीम के मुख्य रेडर नहीं थे।  सिंह ने 19 मैचों में 97 प्वाइंट्स बनाए, सीजन 8 में चार सुपर 10 भी दर्ज किए। यह देखना दिलचस्प होगा कि वह यू मुंबा के मुख्य रेडर के रूप में कैसा प्रदर्शन करते हैं। आशीष नरवाल और शिवम ठाकुर उनके सपोर्टिंग रेडर होने की संभावना है।  नरवाल ने अपने पीकेएल करियर में 68 रेड प्वाइंट बनाए हैं, जबकि शिवम ने पिछले सीजन में मुंबई की टीम के लिए 15 मैचों में 37 अंक अर्जित किए थे।

डिफेंडर्स का कैसा रहेगा कॉम्बिनेशन:

प्रो कबड्डी 2022 नीलामी से पहले राइट कॉर्नर डिफेंडर रिंकू शर्मा को फ्रैंचाइज़ी ने रिटेन किया। वह पिछले सीज़न में टीम के सबसे सफल डिफेंडर थे, जिन्होंने 22 मैचों में 60 टैकल पॉइंट बनाए। इस सीज़न किरण टीम के एक नए लेफ्ट कॉर्नर डिफेंडर होंगे। फ़ज़ल अत्राचली के जाने के बाद यू मुंबा के टीम में डिफेंस में कोई बड़ा नाम नहीं है। युवा खिलाड़ी किरण संभवत: लेफ्ट कॉर्नर में खेलेंगे।  टीम के दो कवर डिफेंडर सुरिंदर सिंह और हरेंद्र कुमार होंगे। पिछले सीजन में भी हरेंद्र टीम के साथ थे।  लेफ्ट कवर पोजीशन में खेलते हुए उन्होंने 21 मैचों में 31 प्वाइंट्स बनाए।

नए कोच का चयन

सीज़न 8 के प्रदर्शन के बाद टीम के उच्च अधिकारियों ने सुब्रमण्यम राजगुरु को हटाया। क्योंकि, अपने पहले कोचिंग कार्यकाल में टीम मैनेजमेंट को प्रभावित करने में वो विफल रहे।  मुख्य कोच के लिए टीम मैनेजमेंट ने अनिल छपराना को पद सौंपा हैं, जो पहले एक आक्रामक कोच के रूप में काम करते थे।  यह देखना काफी दिलचस्प होगा कि नए कोच के साथ युवा प्रतिभावान खिलाड़ियों के साथ टीम कैसे इस सीजन प्रदर्शन करेगी।

For more updates, follow Khel Now Kabaddi on Facebook, TwitterInstagram and join our community on Telegram.