टीम को आगामी सीजन में अपने खिलाड़ियों से दमदार प्रदर्शन की उम्मीद होगी|

तमिल थलाइवाज ने प्रो कबड्डी लीग (पीकेएल) के आठवें सीजन में हुए खिलाड़ियों के ऑक्शन में अपनी टीम को पूरी तरह से बदल दिया है| पीकेएल के पांचवें सीजन में अपनी शुरुआत से अबतक वे अंकतालिका में अच्छा नहीं कर सके हैं|टीम अपने पांचवें और छठे सीजन में छठे स्थान पर रही तो वहीं सातवें सीजन की समाप्ति 12 वें स्थान पर रहकर की|

लीग के आगामी सीजन में चेन्नई स्थित इस टीम ने मजबूत राइट कवर डिफेनडर सुरजीत सिंह में निवेश किया है और साथ ही साथ प्रतिभाशाली रेडर्स मंजीत और के प्रपंजन को ऑक्शन में शामिल किया है|   

तमिल थलाइवाज जोकि अपने पहले तीन सीजन में अजय ठाकुर, मंजीत छिलर, और राहुल चौधरी जैसे दिग्गजों से सुसज्जित थी वो टीम इसबार सुरजीत सिंह जैसे अनुभवी के नेतृत्व में युवाओं से सजी हुई है|टीम आठवें सीजन की शुरुआत एक नए अंदाज में करना चाहेगी|

पीओ सुरजीत सिंह कर रहे हैं टीम का नेतृत्व

तमिल थलाइवाज ने पिकेएल के आठवें सीजन के ऑक्शन में सुरजीत सिंह को अपनी टीम में शामिल करने के लिए 75 लाख रुपये खर्च किए, जिस कारण वह इस सीजन में बिकने वाले सबसे महंगे डिफेनडर बन गए| सुरजीत, पीकेएल में 278 टैकल पॉइंट के साथ सबसे सफल कवर डिफेंडर रहें हैं और सबसे ज्यादा हाई फाइव (27) का रिकार्ड भी उनके नाम ही है|

इससे पहले सुरजीत ने अलग-अलग सीजन में पुणेरी पलटन, यू मुंबा और बंगाल वारियर्स जैसी टीमों का प्रतिनिधित्व किया है और अपनी हार्ड-हिटिंग डैशेस से अपना टैलेंट साबित किया है| उनका ये अपार अनुभव इसबार युवाओं को मेन्टर करने में मददगार साबित होगा| खेल के दौरान सुरजीत का संयम और दबाव में भी स्कोर करने की क्षमता टीम के लिए आने वाले सीजन में मददगार साबित होगी|

स्किलफूल रेडर्स करेंगे आक्रमण की अगुआई

सातवें सीजन में तमिल थलाइवाज ने एक शानदार रेडिग यूनिट बनाया था जिन्होंने बड़े मंच पर अपनी क्षमता का प्रदर्शन बखूबी किया था| नए और टैलेंटेड रेडर्स के साथ मंजीत और के प्रपंजन इस सीजन में अटैक के लाइन-अप की अगुआई करेंगे और अपनी क्षमताओं को दिखाएंगे|पिछले सीजन में मंजीत के नाम 123 रेड पॉइंट और 28 टैकल पॉइंट थे| 68वें  सीनियर नैशनल कबड्डी चैम्पीअन्शिप में वह सिल्वर मेडल जीतने वाली सर्विसेज टीम का भी हिस्सा रह चुके हैं|

वहीं दूसरी तरफ के प्रपंजन ने सीजन 7 में बंगाल वॉरियर्स को विजेता बनाने में अपनी महावपूर्ण भूमिका निभाई थी| लोकल बॉय प्रपंजन अपने पाँचवें सीजन के अपने करियर बेस्ट (122 रेड पॉइंट्स) प्रदर्शन को दोहराने की कोशिश करेंगे|

इस साल ऑक्शन में खरीदे गए अथुल एमएस, अजिंक्य पवार, भवानी राजपूत, और सौरभ तानाजी पाटील जैसे खिलाड़ी अपनी रेडिग ऐबलिटी को पिछले सीजन्स में दिखा चुके हैं| ये खिलाड़ी इस बार टीम के डिफेंस लाइन-उप को और मजबूत करेंगे और पीकेएल के आठवें सीजन में जब तमिल थलाइवाज की ओर से मैट पर उतरेंगे तो अपने नई स्किल दिखाने के लिए तत्पर होंगे|

डिफेंडर्स दिखाएंगे अपना दम

तमिल थलाइवाज ने सीजन 8 के लिए युवा डिफेंडर्स को अपनी टीम में चुना है, जो पीओ सुरजीत सिंह के अगुआई में अपनी क्षमता दिखाएंगे| न्यू यंग प्लेयर केटेगरी में हिमांशु, एम. अभिषेक, और सागर राठी को ही रीटेन किया गया है|

टीम के डिफेंस को मजबूती देने के साथ ही युवाओं के पास आगामी सीजन में अपनी क्षमता सिद्ध करने का एक मौका होगा| कॉर्नर के माहिर सागर राठी और सागर कृष्ण की जोड़ी इसबार थलाइवाज के लिए अपना दम दिखाएंगे, वहीं संथापनासेलवम और हिमांशु सब्स्टियूट कॉर्नर की भूमिका अदा करेंगे|

कोच का मिलेगा अनुभव

विदेशी खिलाड़ियों में श्रीलंका के नवर साहीद और बांग्लादेश के तुहिन तरफदर के पास हेड कोच जे उदय कुमार से बहुत कुछ सीखने का और टीम के लिए योगदान देने का मौका होगा| उदय कुमार वर्तमान समय में भारत के प्रमुख व प्रतिष्ठित कोचों में से एक हैं| उन्होंने इंडियन नैशनल टीम का प्रतिनिधित्व 2004 और 2007 वर्ल्ड कप तथा 2002, 2006 और 2014 के एशियन गेम्स में किया है|

तमिल थलाइवाज एक बैलेनस्ड टीम के साथ प्रो कबड्डी लीग 8 में एक प्रभावी कैम्पेन के लिए तैयार है|