इन खिलाड़ियों के लिए टीमों ने बड़ी बोली लगाई।

कोरोना के कारण दो साल बाद आयोजित हो रहे प्रो कबड्डी लीग (पीकेएल) के लिए फैंस काफी उत्साहित हैं। नए सीजन की शुरुआत से पहले टीमों में बड़े बदलाव हुए हैं। ऑक्शन से पहले नौ टीमों ने अपने कप्तानों को रिलीज कर दिया था। 12 टीमों ने कुल मिलाकर 59 खिलाड़ियों को रिटेन किया, तो साथ ही में 161 खिलाड़ियों को रिलीज भी किया गया है।

ऑक्शन की लिस्ट में कई हैरान करने वाले नाम शामिल थे जिसमें परदीप नरवाल जैसे स्टार भी शामिल हैं। इस बार प्रो कबड्डी लीग के सीजन 8 की इस नीलामी में कई खिलाड़ियों पर पैसों की बरसात देखने को मिली। परदीप नरवाल और सिद्धार्थ देसाई दो ऐसे खिलाड़ी रहे, जिन्हें नीलामी में एक करोड़ से ऊपर की कीमत में खरीदा गया। परदीप इस लीग के ऑक्शन में सबसे महंगे खिलाड़ी बन गए।

उन्हें 30 अगस्त को 8वें सीजन की नीलामी में यूपी योद्धा ने 1.65 करोड़ में खरीदा। विदेशी और भारतीय खिलाड़ी मिलाकर 43 खिलाड़ियों को खरीददार मिले। इसमें 22 विदेशी और 21 भारतीय प्लेयर्स शामिल हैं। चलिए देखते हैं की ऑक्शन में सबसे महंगे बिकने वाले टॉप-5 रेडर्स कौन से रहे:

5. सचिन तंवर

सचिन तंवर ने प्रो कबड्डी लीग में अब तक का सफर केवल गुजरात जायंट्स के साथ ही बिताया है। हालांकि मौजूदा सीजन में वह पहली बार किसी ओर टीम के लिए खेलेंगे। ऑक्शन में उन्हें पटना पाइरेट्स ने 84 लाख रुपए में खरीदा है। सचिन लीग के टॉप 10 स्कोरर मे शामिल हैं। छठे सीजन में उन्होंने 91 रेड पॉइंट हासिल किए थे। उनके इसी प्रदर्शन के कारण पटना पाइरेट्स ने उमपर दांव लगाया और पैसा बहाया। डुबकी किंग परदीप नरवार की गैरमौजूदगी में वह पटना की टीम में नई जान लाने का काम करेंगे।

4. मनजीत दहिया

मनजीत दहिया ने प्रो कबड्डी लीग के छठे सीजन में पटना पाइरेट्स के साथ लीग में डेब्यू किया था। वहां वह परदीप नरवाल के बाद दूसरे टॉप रेडर रहे थे। हालांकि इसके अगले सीजन में वह पुणेरी पल्टन के लिए खेले और अब तक कुल 151 रेड पॉइंट हासिल कर चुके हैं। 25 साल का यह खिलाड़ी रेड करते हुए अपनी लंबाई का फायदा उठाते हैं। वह दबाव में भी अंक हासिल करने के लिए जाने जाते हैं। ऐसे में वह तमिल तलाइवाज के लिए काफी अहम साबित होने वाले हैं जिन्होंने 92 लाख रुपए में उन्हें अपनी टीम के साथ जोड़ा है।

3. अर्जुन देसवाल

अर्जुन देसवाल का नाम प्रो कबड्डी लीग सीजन 8 के ऑक्शन लिस्ट में देखकर फैंस काफी हैरान थे। यू मुंबा के लिए खेलने वाले अर्जुन इस साल जयपुर पिंक पैंथर्स के लिए खेलेंगे। जयपुर की टीम ने 96 लाख रुपए की बड़ी रकम के साथ टीम में जोड़ा था। ऑक्शन में अर्जुन के लिए जयपुर की टीम को तेलगु टाइटंस के साथ लड़ना पड़ा। वह लीग के इतिहास में तीसरे सबसे महंगे खिलाड़ी हैं। उन्होंने यू मुंबा के लिए 104 रेड पॉइंट अंक हासिल किए हैं। वह जयपुर में दीपक हुडा के साथ मिलकर टीम को खिताब जिताने में अहम रोल निभा सकते हैं।

2. सिद्धार्थ देसाई

सिद्धार्थ देसाई प्रो कबड्डी लीग में काफी देरी से आए थे लेकिन कम समय में भी उन्होंने अपना बड़ा नाम बनाया है। आठवें सीजन में तेलुगू टाइटंस की टीम ने 1.30 करोड़ रुपये की कीमत में अपने साथ जोड़ा है। वह उन दो चुनिंदा खिलाड़ियों में शामिल हैं जिनकी बोली करोड़ों में लगी है। सिद्धार्थ की पीकेएल के इतिहास में सबसे तेज 50 रेड अंक हासिल करने वाले खिलाड़ी हैं। यू मुंबा के लिये सिद्धार्थ ने छठे सीजन में डेब्यू किया था और अपने पहले ही मैच में 15 प्वाइंट हासिल किये थे। सिद्धार्थ देसाई अब तक 22 मैचों में 220 अंक हासिल कर चुके हैं और तेलुगु की टीम में उनका शामिल होना डिफेंस और रेड दोनों के लिये फायदे मंद साबित होगा।

1. परदीप नरवाल

ऑक्शन की लिस्ट में सबसे हैरानी भरा और सबसे बड़ा नाम था परदीप नरवाल। पटना पाइरेट्स को तीन बार चैंपियन बनाने वाले इस खिलाड़ी को इस बार रिलीज कर दिया गया था। उनके रहते पटना ने सीजन 3, 4 और पांच में तीन बार खिताब जीता। वह प्रो कबड्डी लीग के इतिहास में 1000 अंक हासिल करने वाले पहले खिलाड़ी बने थे। परदीप नरवाल के करियर की बात करें तो वो पीकेएल के 7 सीजन में अब तक 107 मैच खेल चुके हैं जिसमें उन्होंने 1169 पॉइंट्स हासिल किए हैं।। परदीप नरवाल को पटना पाइरेटस की टीम ने रिलीज किया था जिसके बाद यूपी योद्धा की टीम ने 1।60 करोड़ रुपए की रिकॉर्ड रकम के साथ उन्हें अपने साथ जोड़ा है।