दोनों टीमों ने दमदार मुकाबला खेला।

रेडर नवीन कुमार (16 अंक) और आलराउंडर विजय (9 अंक) की बेहतरीन जुगलबंदी की बदौलत दबंग दिल्ली केसी ने यहां के शेरेटन ग्रैंड होटल, वाटरफील्ड में जारी प्रो कबड्डी लीग (पीकेएल) सीजन-8 के दूसरे दिन गुरुवार को खेले गए अपने पहले मैच में पुनेरी पल्टन को 41-30 से हरा दिया।

पल्टन के लिए नितिन तोमर (7 अंक) अपने रंग में दिखे लेकिन सुपरस्टार राहुल चौधरी (5 अंक) की नाकामी उसे महंगी पड़ी। अपना पहला मैच खेल रहे असलम इनामदार ने पांच अंक बटोरे लेकिन वह अपनी टीम को जीत तक नही पहुंचा सके। पंकज मोहिते ने भी पल्टन के लिए चार अंक बटोरे।

राहुल के दो सफल रेड्स के बाद पल्टन ने 3-2 की लीड ले ली थी लेकिन नवीन ने पांच सफल रेड्स के साथ दिल्ली को 7-4 से आगे कर दिया। नवीन ने इस दौरान राहुल को भी आउट किया। 10 मिनट पूरा होने से पहले ही दिल्ली ने पल्टन को आल आउट कर 10-5 की लीड ले ली। नितिन तोमर ने लगातार दो बोनस के साथ पल्टन का स्कोर 7-11 किया। नितिन अगली रेड पर संदीप नरवाल द्वारा लपके गए। स्कोर 13-7 हो गया था। पल्टन की अच्छी खबर। राहुल मैट पर वापस आ गए थे। आते ही राहुल ने अपनी टीम को एक बोनस अंक दिलाया।

नवीन दूसरी ओर कोहराम मचा रहे थे। लेफ्ट कार्नर को आउट कर उन्होंने दिल्ली को 15-8 की लीड दिलाई। उससे पहले विजय ने टो टच पर राइट कार्नर को आउट किया था। दिल्ली दबंग की तरह खेल रहे थे। जीवा कुमार ने शानदार डैश के साथ राहुल को आउट कर दिल्ली की लीड दोगुनी कर दी।

नवीन ने इस प्रो कबड्डी लीग मैच में लगातार अंक बटोर रहे थे। पल्टन आलआउट के करीब थे। नवीन ने रेड पर एक अंक लिया और जोगिंदर नरवाल ने एंकल होल्ड पर पल्टन को आलआउट कर दिल्ली को 21-10 से आगे कर दिया। आल आउट होने के बाद पल्टन ने शानदार वापसी की और लगातार पांच अंक बटोरे। स्कोर 15-21 था। पहले हाफ की समाप्ति से ठीक पहले दिल्ली को एक अंक मिला।

दूसरे हाफ की शुरुआत में दिल्ली के लिए सुपर टैकल आन था। मुश्किल हालात में विजय ने दिल्ली के लिए दो अंक लिए और स्कोर 24-15 कर लिया। इसके बाद डू आर डाई रेड पर दिल्ली के डिफेंडरों ने एक अंक लिया और 25-15 की लीड ले ली।

डबल थाईहोल्ड पर बाला साहब ने विजय को आउट कर पल्टन को एक अंक दिलाया। इसके बाद राहुल ने भी एक अंक लिया। स्कोर 17-25 हो गया था। नवीन बाहर ही थे और इधर दिल्ली के खिलाड़ी एक के बाद एक आउट हो रहे थे। अगली रेड पर नितिन ने कप्तान जोगिंदर को आउट किया औऱ फिर पल्टन ने दिल्ली को आलआउट कर दिया। स्कोर अब भी हालांकि दिल्ली के पक्ष में 26-22 था।

नितिन ने एक और बोनस लेकर स्कोर 23-26 किया लेकिन नवीन ने बोनस के साथ सुपर-10 पूरा कर प्रो कबड्डी लीग के इस मैच का स्कोर 27-23 कर दिया। यह उनके करियर का 31वां सुपर-10 है। अगली रेड पर राहुल को आउट कर दिल्ली ने 28-23 की लीड ले ली। जीवा ने एक बेहतरीन टैकल के साथ दिल्ली को 30-23 से आगे दिया। विजय ने रेड पर एक अंक लिया। अब पल्टन के लिए सुपर टैकल आन था। असलम इमानदार ने दिल्ली के मंजीत चिल्लर को आउट कर अपनी टीम को 24वां अंक दिलाया। नवीन ने एक अंक लेकर दिल्ली को 32-24 से आगे दिया। असलम ने बोनस लिया तो अगली रेड पर नवीन ने दो अंक लेकर स्कोर 34-25 कर दिया।

दिल्ली ने राहुल को आउट कर पल्टन को आलआउट किया और न सिर्फ 37-26 की लीड ले ली बल्कि एक लिहाज से मैच अपने नाम कर लिया। आल आउट होने के बाद पल्टन ने लगातार तीन अंक बटोरे और स्कोर 29-39 कर लिया लेकिन वह 10 अंकों के फासले को कम नहीं कर पा रही थी औऱ अंततः वह हार को मजबूर हुई।

पटना पाइरेट्स ने हरियाणा स्टीलर्स को हराया

हरियाणा स्टीलर्स ने प्रो कबड्डी लीग (पीकेएल) सीजन-8 में अपना पहला मैच पटना पाइरेट्स के खिलाफ खेला, जोकि काफी करीबी रहा। बेंगलुरू के शेरेटन ग्रैंड होटल, वाटरफील्ड में खेले गए इस मुकाबले में पटना पाइरेट्स ने दूसरे हाफ में अच्छी वापसी की। हालांकि हरियाणा स्टीलर्स ने भी अपना संघर्ष जारी रखा, लेकिन उसे मैच में 39-42 से हार का सामना करना पड़ा। रोहित गुलिया हरियाणा स्टीलर्स के लिए बेस्ट खिलाड़ी रहे, जिन्होंने सुपर टेन लगाते हुए 10 प्वाइंट्स हासिल किए।

हरियाणा स्टीलर्स ने मैच की शुरुआत में ही बढ़त बना ली। हालांकि पटना पाइरेटस ने कुछ अंक हासिल करते हुए 11वें मिनट तक 12-7 की लीड ले ली। लेकिन हरियाणा के स्टार खिलाड़ी रोहित गुलिया ने 12वें मिनट में सुपर रेड लगाते हुए अपनी टीम की बढ़त को 14-12 तक पहुंचा दिया। इसके बाद हरियाणा स्टीलर्स ने पटना पाइरेटस को ऑल आउट कर दिया और 5 प्वाइंटस लेकर अपनी बढ़त को 18-13 तक पहुंचा दिया। स्टीलर्स के डिफेंस भी अपने रेडरों का अच्छा साथ निभाया और टीम ने पहले हाफ की समाप्ति तक 22-18 से स्कोर अपने पक्ष में रखा।

ब्रेक के बाद पटना की टीम ने जोरदार शुरुआत की और मोनू गोयत ने दूसरे हाफ के शुरुआती मिनटों में कुछ अच्छी रेड की। पाइरेट्स ने इसके बाद 26वें मिनट में हरियाणा को ऑल आउट  करके 27-26 की लीड ले ली। स्टीलर्स ने इसके बाद भी वापसी की अपनी उम्मीद नहीं छोड़ी, लेकिन वे पाइरेटस की डिफेंस में सेंध नहीं लगा पा रही थी। 29वें मिनट में हरियाणा की डिफेंस ने शानदार प्रदर्शन करते हुए टैकल किया और पाइरेटस की लीड को कम कर दिया। हालांकि गोयत ने फिर अच्छी रेड करते हुए पटना को 6 अंकों की बढ़त दिला दी और उसका स्कोर 33-27 हो गया।

32वें मिनट में हरियाणा स्टीलर्स ने सुपर टैकल के साथ वापसी की और फिर एक और सुपर टैकल लेकर पटना की बढ़त को कम कर दिया। 33वें मिनट तक पटना के पास केवल दो अंक की बढ़त थी और उसका स्कोर 34-32 था। यहां से गोयत ने एक और रेड करते हुए पटना को पांच अंकों की लीड दिला दी और उसका स्कोर 37-32 हो गया। हालांकि सुरेंद्र नाडा ने 36वें मिनट में शानदार टैकल करके हरियाणा को मैच में बनाए रखा। इसके बाद रोहित गुलिया ने अंत के मिनटों में कुछ अच्छे रेड करते हुए हरियाणा को पटना के करीब पहुंचाने की पूरी कोशिश की। लेकिन पटना पाइरेट्स ने अपनी मामूली बढ़त को कायम रखते हुए रोमांचक जीत दर्ज कर ली।