प्रो कबड्डी लीग के फॉर्मेट में इस बार बदलाव किया गया है।

प्रो कबड्डी लीग (पीकेएल) के आठवें सीजन के शेड्यूल का ऐलान हो गया है। पीकेएल के ऑर्गेनाइजर मशाल स्पोर्ट्स ने आगामी सीजन के आधे कार्यक्रम की घोषणा कर दी है। 8वें सीजन की शुरुआत 22 दिसंबर से बैंगलोर में होगी। इस बार टूर्नामेंट का आयोजन बिना फैंस के बैंगलोर में ही किया जाने वाला है।

इस सीजन फॉर्मेट में बहुत बड़ा बदलाव किया गया है और पहली बार टूर्नामेंट में एक दिन में तीन मैच खेले जाएंगे। टूर्नामेंट के पहले चार दिन लगातार “ट्रिपल हेडर” मुकाबले होंगे। इसके बाद हर शनिवार तीन मुकाबलों का आयोजन होगा।

प्रो कबड्डी लीग सीजन 8 का पहला मुकाबला यू-मुम्बा और बेंगलुरू बुल्स की टीम के बीच खेला जाएगा। इसके बाद तेलुगु टाइटंस और तमिल थलाइवाज के बीच मैच होगा। वहीं तीसरा मुकाबला यूपी योद्धा और डिफेंडिंग चैंपियन बंगाल वॉरियर्स के बीच होगा।

पीकेएल का रोमांच और बढ़ाने के लिए इस बार हर शनिवार को दो नहीं बल्कि तीन मुकाबले खेले जाएंगे और इसे “‘ट्रिपल पंगा” नाम दिया गया है। इस नए फॉर्मेट से फैंस वीकेंड पर अपने पसंदीदा गेम का और ज्यादा लुत्फ उठा सकते हैं। प्रो कबड्डी लीग के सेकेंड पार्ट के शेड्यूल का ऐलान मिड जनवरी तक होगा।

इस बारे में बातचीत करते हुए मशाल स्पोर्ट्स के सीईओ और लीग कमिश्नर अनुपम गोस्वामी ने कहा, “प्रो कबड्डी लीग की वजह से ही भारत में कबड्डी इतनी पॉपुलर हुई है। हम ये अलग फॉर्मेट इस बार इसलिए लेकर आए हैं ताकि इस गेम को नए तरीके से लोगों को सामने लाया जा सके। हम शेड्यूल का ऐलान भी दो बार में कर रहे हैं ताकि इससे टीमों को अपनी स्ट्रैटजी बेहतर तरीके से बनाने का मौका मिल सके। ट्रिपल हेडर और “ट्रिपल पंगा” से फैंस को अपने फेवरिट प्लेयर्स और टीमों को ज्यादा देखने का मौका मिलेगा।”

खिलाड़ियों की सेफ्टी का ध्यान रखते हुए मशाल स्पोर्ट्स शेरटन ग्रांड बेंगलुरु वाइटफील्ड होटल और कंवेंशन सेंटर में सिक्योर बायो-बबल तैयार करेगा। सभी टीमें एक ही जगह रहने और खेलने वाली हैं।