सीजन 7 की फाइनलिस्ट टीम के पास कई बेहतरीन ऑप्शन मौजूद हैं।

प्रो कबड्डी लीग (पीकेएल) के 8वें सीजन के ऑक्शन की तारीखों का ऐलान हो गया है। आगामी सीजन का ऑक्शन 29 से 31 अगस्त तक तीन दिनों तक चलेगा। लीग के ऑर्गेनाइजर्स मशाल स्पोर्ट्स ने औपचारिक तौर पर पीकेएल ऑक्शन की डेट्स का ऐलान किया। 8वें सीजन के लिए हर टीम का पर्स 4.4 करोड़ रुपये का होगा।

ऑक्शन से पहले सभी टीमों ने अपनी-अपनी रणनीति बनानी शुरू कर दी है। नीलामी से ज्यादा रिटेन किए जाने वाले प्लेयर्स पर सबकी निगाहें होती हैं। दबंग दिल्ली भी कुछ बेहतरीन प्लेयर्स को रिटेन करना चाहेगी। हम आपको बताते हैं कि वो पांच प्लेयर कौन-कौन से हैं जिन्हें दबंग दिल्ली को रिटेन करना चाहिए।

5. सोमबीर गुलिया

सोमबीर गुलिया एक डिफेंडर के तौर पर खेलते हैं। उन्होंने सातवें सीजन में कुल मिलाकर 12 मैच खेले थे और 10 प्वॉइंट हासिल किए थे। उन्होंने दो सुपर टैकल किए थे और एक हाई फाइव लगाया था। लीग में ओवरऑल वो 35 मुकाबलों में 47 टैकल प्वॉइंट हासिल कर चुके हैं।

उनका परफॉर्मेंस सीनियर नेशनल्स में अच्छा रहा था, जिससे पता चलता है कि वो अच्छी फॉर्म में हैं। ऐसे में आगामी सीजन में वो दबंग दिल्ली के लिए बेहतरीन ऑप्शन साबित हो सकते हैं।

4. चंद्रन रंजीत – रेडर

चंद्रन रंजीत प्रो कबड्डी लीग सीजन 7 में दबंग दिल्ली के लिए काफी उपयोगी रेडर साबित हुए थे। नवीन कुमार का उन्होंने बेहतरीन साथ दिया था। उन्होंने 7वें सीजन में 22 मुकाबले खेले और इस दौरान कुल मिलाकर 125 प्वॉइंट हासिल किए। चंद्रन रंजीत ने 262 रेड में 118 प्वॉइंट हासिल किए, जबकि 7 प्वॉइंट टैकल के जरिए उन्होंने हासिल किए। उनके नाम दो सुपर 10 और 3 सुपर रेड भी है।

दबंग दिल्ली की टीम अकेले नवीन कुमार पर ही निर्भर नहीं रह सकती है। इसीलिए उन्हें चंद्रन रंजीत को रिटेन करना चाहिए क्योंकि वो टीम में एक मेन रेडर की भूमिका काफी अच्छी तरह से निभा सकते हैं।

3. विजय मलिक

आगामी सीजन में मलिक पर सबकी नजरें रहेंगी (क्रेडिट- पीकेएल)

विजय मलिक 7वें सीजन में दबंग दिल्ली के लिए बेहतरीन ऑलराउंडर साबित हुए थे। वो टीम की तरफ से टॉप परफॉर्मर की लिस्ट में तीसरे नंबर पर थे। विजय ने पिछले सीजन कुल 22 मुकाबले खेले और इस दौरान 62 प्वॉइंट हासिल किए। 107 रेड में उन्होंने एक सुपर 10 लगाते हुए 48 प्वॉइंट हासिल किए थे। वहीं डिफेंस में 14 टैकल प्वॉइंट हासिल किए थे।

विजय मलिक को अगर दबंग दिल्ली की टीम रिलीज करती है तो बाकी टीमें उनके लिए महंगी बोली लगा सकती है। ऐसे में उन्हें रिटेन करना ही ज्यादा सही विकल्प रहेगा।

2. रविंदर पहल

“द हॉक” के नाम से मशहूर कबड्डी खिलाड़ी रविंदर पहल जैसा डिफेंडर हर एक फ्रेंचाइजी अपनी टीम में चाहती है। वो अपने थाई होल्ड के लिए मशहूर हैं और टीम के सबसे अनुभवी खिलाड़ियों में से एक हैं जो राइट कॉर्नर में एक दीवार की तरह डटे रहते हैं। सीजन 2 में वो लीग के सबसे सफल डिफेंडर थे, जबकि 5वें सीजन में उन्होंने दूसरी बार 50 से ज्यादा टैकल प्वॉइंट हासिल किए थे।

सातवें सीजन में रविंदर पहल ने 23 मैचों में 63 प्वॉइंट हासिल किए। वो पीकेएल इतिहास में 300 टैकल प्वॉइंट हासिल करने वाले सिर्फ दूसरे डिफेंडर हैं। इस सीजन भी वो टीम के लिए अहम भूमिका निभा सकते हैं और दबंग दिल्ली को उन्हें रिटेन करना चाहिए।

1. नवीन कुमार

Naveen Kumar kabaddi
पिछले सीजन नवीन ने दमदार प्रदर्शन किया (क्रेडिट-पीकेएल)

“नवीन एक्सप्रेस” के नाम से मशहूर इस युवा खिलाड़ी ने बेहद कम समय में ही कबड्डी की दुनिया में अपना एक अलग मुकाम हासिल कर लिया है। पिछले सीजन दबंग दिल्ली को फाइनल में पहुंचाने में उनका सबसे बड़ा योगदान था।

2018 में दबंग दिल्ली के लिए अपने पहले सीजन में ही नवीन कुमार ने सबसे ज्यादा 177 प्वॉइंट हासिल किए थे। उन्होंने अपना ये शानदार फॉर्म सातवें सीजन में भी बरकरार रखा और कुल 303 प्वॉइंट हासिल किए। इसके अलावा उन्होंने 23 मैचों में 22 सुपर 10 लगाने का रिकॉर्ड भी बनाया। उनके नाम लगातार सबसे ज्यादा सुपर 10 का भी रिकॉर्ड है।

21 वर्षीय इस खिलाड़ी ने बेहद कम समय में ही कई बड़े कीर्तिमान अपने नाम कर लिए हैं। उन्होंने अपने शानदार परफॉर्मेंस के दम पर पवन सेहरावत, परदीप नरवाल और मनदीप सिंह जैसे दिग्गजों को कड़ी टक्कर दी है। दबंग दिल्ली की टीम निश्चित तौर पर उन्हें रिलीज नहीं करना चाहेगी।