इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) की डिफेंडिंग चैम्पियन बेंगलुरू एफसी के हेड कोच कार्ल्स क्वाड्राट और हैदराबाद एफसी के फारवर्ड मार्सेलिनियो परेरा रविवार को ​ट्विटर पर भिड़ गए।

दोनों के बीच हुई इस तू तू—मैं मैं का कारण शुक्रवार को हुआ मैच रहा।

बेंगलुरू ने हैदराबाद के खिलाफ उसी के होम ग्राउंड में 1—1 से रोमांचक ड्रॉ खेला था। दोनों टीमों के खिलाड़ियों ने काफी फिजिकल गेम खेला और मुकाबले के दौरान कई हार्ड टैकल देखने को भी मिले। मैच के 60वें मिनट में मार्सेलिनियो ने मेहमान टीम के मिडफील्डर राफेल ऑगस्टो पर हार्ड टैकल किया, लेकिन रैफरी ने उन्हें केवल यलो कार्ड दिखाया।

रैफरी के इस फैसले से क्वाड्राट नाराज नजर आए। उन्होंने रैफरी के निर्णय पर चुटकी लेते हुए ट्वीट किया,”इंडियन सुपर लीग में सिटी फुटबॉल ग्रुप, मैनचेस्टर सिटी का स्वागत है। वैसे आप आए ही हैं तो साथ में प्रीमियर लीग से कुछ अच्छे रैफरी भी लेकर आएं।”

मैनचेस्टर सिटी के मालिक सिटी फुटबॉल ग्रुप ने हाल ही में आईएसएल टीम मुंबई सिटी एफसी में मैज्योरिटी स्टेक हासिल किया और क्वाड्राट इसी की ओर इशारा कर रहे थे। हालांकि, मार्सेलिनियो इसे नाराज हो गए।

मार्सेलिनियो ने पिछले साल बेंगलुरू और नॉर्थईस्ट यूनाइटेड एफसी के बीच हुए टूर्नामेंट के सेमीफाइनल मैच का जिक्र किया। मुकाबले में नॉर्थईस्ट के मिडफील्डर फेडेरिको गलेगो को चोट लगी थी जिसके कारण वह अभी तक फील्ड पर वापसी नहीं कर पाए हैं।

मार्सेलिनियो ने जवाब में ट्वीट किया,”अगर मुझे सही से याद है तो किसी एक प्लेयर ने गलेगो का पांव तोड़ दिया था जिससे वह अभी तक पिच पर वापसी नहीं कर पाए हैं। जिस प्लेयर ने टैकल करके गलेगो को चोटिल किया था उसके कोच ने हालांकि, खिलाड़ी पर बैन लगाने की बात नहीं कही थी।”

बेंगलुरू के कोच ने इसपर सफाई देते हुए एक और ट्वीट किया। क्वाड्राट ने लिखा,”आप दोनों घटनाओं की तुलना नहीं कर सकते। मीकू ने जो टैकल किया उसके लिए उन्हें सजा नहीं दी जा सकती है। मीकू और कैप्टन सुनील छेत्री घटना के बाद भी गलेगो के कॉनटेक्ट में रहे और उनसे मिलने के लिए अस्पताल भी गए। फुटबाल फैन्स के लिए खुशी की बात यह है कि वह जल्द ही फील्ड पर वापसी करेंगे।”

आईएसएल टेबल में बेंगलुरू की टीम फिलहाल, 10 प्वाइंट्स के साथ दूसरे स्थान पर काबिज है जबकि हैदराबाद आखिरी पायदान पर मौजूद है। हैदराबाद के केवल चार अंक हैं।