सीजन आठ के ऑक्शन में कई स्टार प्लेयरों के लिए बिडिंग वॉर हो सकता है।

प्रो कबड्डी लीग (पीकेएल) के 8वें सीजन का ऑक्शन 29 से 31 अगस्त तक होगा। सभी टीमें इस वक्त अपनी-अपनी तैयारियों में जुटी हुई हैं। ऑक्शन से पहले कई दिग्गज प्लेयर्स को रिलीज कर दिया गया है। इस बार के ऑक्शन में कई दिग्गज खिलाड़ी नजर आने वाले हैं जिनके लिए बोली लगेगी।

पिछले दो सीजन के ऑक्शन को अगर देखें तो खिलाड़ियों के लिए बिडिंग वॉर काफी तेज हो गया है। फ्रेंचाइजी ने पैसे खर्च करने में कोई कोर-कसर नहीं छोड़ी है। पीकेएल 2018 और 2019 में कई खिलाड़ियों के लिए करोड़ों में बोली लगी थी।

सभी टीमें ऑक्शन में अपने-अपने कॉम्बिनेशन के हिसाब से बोली लगाएंगी। परदीप नरवाल और राहुल चौधरी समेत कई दिग्गज खिलाड़ी इस बार प्रो कबड्डी लीग ऑक्शन का हिस्सा होंगे। यही वजह है कि इस बार के ऑक्शन में काफी महंगी बोली भी लग सकती है।

हम आपको उन टॉप-5 प्लेयर्स के बारे में बताते हैं जिनके लिए इस सीजन के ऑक्शन में सबसे महंगी बोली लग सकती है।

5. रोहित गूलिया

रोहित गूलिया एक शानदार ऑलराउंडर खिलाड़ी हैं। रेडिंग के अलावा डिफेंस में भी वो अपनी टीम के लिए अहम योगदान देते हैं। उन्होंने अपना पीकेएल डेब्यू पांचवे सीजन में गुजरात फॉर्च्यूनजायंट्स के लिए किया था और तब से उन्हीं के लिए लगातार खेले। सातवें सीजन के मिडिल में उन्हें टीम का कप्तान भी नियुक्त किया गया।

प्रो कबड्डी लीग सीजन 7 में अपनी टीम की तरफ से 22 मैचों में सबसे ज्यादा 142 अंक उन्होंने हासिल किए थे। ऑलराउंडर्स की लिस्ट में ये दूसरा सबसे बेहतरीन परफॉर्मेंस था। हालांकि 8वें सीजन के ऑक्शन से पहले उन्हें रिलीज कर दिया गया। रोहित गूलिया एक बेहतरीन ऑलराउंडर हैं और उनके पास लीडरशिप स्किल भी है। ऐसे में इस सीजन उनके लिए कई टीमें दिलचस्पी दिखा सकती हैं।

4. रोहित कुमार

रोहित कुमार को रिलीज करना काफी चौंकाने वाला रहा। अपनी कप्तानी में उन्होंने बेंगलुरू बुल्स को छठे सीजन में पीकेएल का चैंपियन बनाया था और रेडिंग में भी लगातार उनका परफॉर्मेंस काफी अच्छा रहा था।

इस स्टार खिलाड़ी ने तीसरे सीजन में डेब्यू के बाद से ही हर सीजन में कम से कम 100 पॉइंट्स जरूर हासिल किए हैं। पांचवें सीजन में यूपी योद्धा के खिलाफ एक ही मुकाबले में 32 अंक लाकर उन्होंने बड़ा कीर्तिमान बनाया था। इस सीजन उन्होंने 22 मैचों में 231 पॉइंट्स हासिल किए थे और ये टूर्नामेंट का दूसरा सबसे बेस्ट परफॉर्मेंस था।

रोहित कुमार के पास कप्तानी का भी अनुभव है। इसीलिए इस सीजन की नीलामी में उनके लिए काफी महंगी बोली लगा सकती है।

3. सिद्धार्थ देसाई

Siddharth-Desai
देसाई ने लीग में अपनी अलग छाप छोड़ी है (क्रेडिट-पीकेएल)

छह फीट दो इंच लंबे सिद्धार्थ देसाई ने सिर्फ दो ही सीजन में पीकेएल में अपना एक अलग मुकाम हासिल कर लिया है। उन्होंने अपना प्रो कबड्डी लीग डेब्यू छठे सीजन में यू-मुम्बा के लिए किया और तूफानी शुरूआत की। पहले मुकाबले में ही उन्होंने सुपर 10 लगा दिया और केवल 4 मैचों में ही 50 पॉइंट्स हासिल कर इतिहास रच दिया।

सातवें सीजन की नीलामी में तेलुगु टाइटंस ने उन्हें एक करोड़ 45 लाख रूपए की बोली लगाकर खरीदा। उन्होंने फ्रेंचाइजी के इस फैसले को सही साबित किया और बेहतरीन प्रदर्शन किया। दो सीजन में कुल मिलाकर उन्होंने 441 पॉइंट्स हासिल किए हैं।

हालांकि 8वें सीजन के ऑक्शन से पहले उन्हें रिलीज कर दिया गया है और उनके लिए काफी महंगी बोली लग सकती है।

2. दीपक निवास हूडा

दीपक निवास हूडा एक मल्टी टैलेंटेड खिलाड़ी हैं। एक बेहतरीन रेडर और डिफेंडर के अलावा वो जबरदस्त कप्तान भी हैं। प्रो कबड्डी लीग में उन्होंने जयपुर पिंक पैंथर्स की कप्तानी की। इसके अलावा वो इंडियन नेशनल टीम के भी कप्तान हैं।

यही वजह है कि छठे सीजन की नीलामी में जयपुर पिंक पैंथर्स ने उनके लिए एक करोड़ 15 लाख की महंगी बोली लगाई थी। सीजन छह और सात में वो टूर्नामेंट के सबसे बेहतरीन ऑलराउंडर रहे। 8वें सीजन के ऑक्शन से पहले उन्हें रिलीज कर दिया गया है और इस बार भी उनके लिए करोड़ों में बोली लग सकती है।

1. परदीप नरवाल

पटना पाइरेट्स के दिग्गज परदीप नरवाल को रिलीज किया जाना काफी चौंकाने वाला रहा। पिछले दो सीजन से उन्होंने अकेले टीम की तरफ से सबसे बेहतरीन प्रदर्शन किया था। पटना पाइरेट्स को उन्होंने तीन बार पीकेएल का खिताब दिलाया। अपने प्रो कबड्डी लीग करियर में परदीप नरवाल ने कुल मिलाकर 1169 पॉइंट्स हासिल किए हैं।

कुल मिलाकर कहें तो परदीप नरवाल प्रो कबड्डी लीग का एक बड़ा चेहरा हैं। उनकी फैन फॉलोइंग काफी ज्यादा है और इसीलिए वो जिस भी टीम में होते हैं उस टीम की लोकप्रियता भी बढ़ जाती है। इस सीजन उनके लिए सबसे महंगी बोली लग सकती है।