देश में पहली बार इस टूर्नामेंट का आयोजन किया जा रहा है।

इंडिया में इस साल नवंबर में पहली बार आयोजित होने वाले फीफा अंडर-17 विमेंस फुटबॉल वर्ल्ड कप के शेड्यूल और मेजबान शहरों का ब्यौरा मंगलवार को जारी किया गया।

केंद्रीय खेल मंत्री किरण रिजिजू, ऑल इंडिया फुटबॉल फेडरेशन  (एआईएफएफ) के प्रेसिडेंट प्रफुल्ल पटेल, फीफा चीफ विमेंस फुटबॉल ऑफिसर सराई बेअरमैन और फीफा के युवा टूर्नामेंटों के प्रमुख रॉबटरे ग्रासी की मौजूदगी में विश्व कप के मैच कार्यक्रमों की घोषणा की गई। टूर्नामेंट का स्लोगन ‘किक ऑफ द ड्रीम’ रखा गया  है।

फीफा अंडर-17 विमेंस वर्ल्ड कप का पहला मैच दो नवंबर को खेला जाएगा। वहीं, इसके क्वॉर्टर फाइनल 12 और 13 नवंबर को जबकि सेमीफाइनल 17 नवंबर को खेला जाएगा। फाइनल और तीसरे स्थान का प्लेऑफ मैच 21 नवंबर को होगा। देश के पांच शहरों अहमदाबाद, भुवनेश्वर, गुवाहाटी, कोलकाता और नवी मुंबई में होने वाले इस टूर्नामेंट में 16 टीमें भाग लेंगी और इस दौरान कुल 32 मैच खेले जाएंगे।

इस अहम मौके पर रिजिजू ने कहा, “मुझे बताते हुए खुशी हो रही है कि हम देश के पांच शहरों में विश्व कप के मैचों की मेजबानी करेंगे। भारत एक अन्य फीफा टूर्नामेंट की मेजबानी की तैयारियों में जुटा है, मैं इसकी शानदार सफलता के लिए सारे देशवासियों से समर्थन की अपील करता हूं।”

“हमारी इंडियन अंडर-17 विमेंस टीम पहली बार फीफा टूर्नामेंट में खेल रही है। यह पूरे देश के लिए गर्व की बात है और हम सुनिश्चित करेंगे कि उन्हें हर संभव सहयोग मिले।”

मैच कार्यक्रमों की घोषणा के अलावा टूर्नामेंट का आधिकारिक स्लोगन किक ऑफ द ड्रीम भी लॉन्च किया गया। फीफा चीफ विमेंस फुटबॉल ऑफिसर  सराई बेअरमैन ने इस अवसर पर कहा, “फीफा अंडर-17 महिला विश्व कप भारत-2020 के मैचों का कार्यक्रम, मेजबान शहर और आधिकारिक नारे की घोषणा भारत और दुनिया भर के फुटबाल प्रेमियों के लिए एक महत्वपूर्ण पल है।”

“एआईएफएफ के अध्यक्ष और स्थानीय आयोजन समिति के प्रमुख प्रफुल्ल पटेल ने कहा , टूर्नामेंट के मैचों की घोषणा महत्वपूर्ण पल है। अब हम जानते हैं कि कौन सा मैच किस शहर में होगा और टूर्नामेंट में कुल कितने मैच खेले जाएंगे। प्रशंसक नवंबर में होने वाले इस टूर्नामेंट के लिए तैयारियां शुरू कर सकते हैं।”

इंडिया इससे पहले 2017 में फीफा मेंस अंडर-17 वर्ल्ड कप की मेजबानी कर चुका है।