Khel Now logo
HomeSportsT20 WC 2024Live Score
Advertisement

फुटबॉल समाचार

बाला देवी टॉप यूरोपियन लीग में गोल करने वाली पहली भारतीय महिला खिलाड़ी बनीं

Published at :December 7, 2020 at 8:06 PM
Modified at :December 13, 2023 at 1:01 PM
Post Featured Image

(Courtesy : Rangers Women Twitter)

Gagan


30 वर्षीय खिलाड़ी ने स्कॉटिश वुमेंस प्रीमियर लीग में अपना पहला गोल दागा।

दिग्गज फुटबॉलर बाला देवी टॉप यूरोपियन लीग में गोल करने वाली पहली भारतीय महिला खिलाड़ी बन गई हैं। उन्होंने रविवार को स्कॉटिश प्रीमियर लीग में रेंजर्स की तरफ से खेलते हुए मदरवेल वुमेंस एफसी के खिलाफ अपना पहला गोल दागा।

रेंजर्स ने इस मुकाबले में मदरवेल की टीम को 9-0 से बुरी तरह हरा दिया। बाला देवी ने 85वें मिनट में गोल दागकर इतिहास रच दिया। इसके साथ ही वो यूरोपियन लीग में गोल करने वाली पहली भारतीय महिला खिलाड़ी बन गई हैं।

https://twitter.com/RangersWFC/status/1335624515037048832

इस सीजन रेंजर्स वुमेन के लिए उन्होंने बेहतरीन प्रदर्शन किया है। एक सब्सीट्यूट के तौर पर उन्होंने सबको प्रभावित किया और कई गोल में अपनी अहम भूमिका भी निभाई। बाला देवी ने मदरवेल के खिलाफ मुकाबले में 9वां गोल दागा और टीम को एक बड़ी जीत दिलाने में अहम भूमिका निभाई। उनके अलावा कर्स्टी होवेट और लिज्जी अर्नोट ने हैट्रिक गोल किया। वहीं मेगान बेल और डायना बोर्मा ने भी गोलकर टीम को 9-0 से जीत दिलाने में अपना महत्वपूर्ण योगदान दिया।

अपना पहला गोल करने से पहले बाला देवी ने 68वें मिनट में टीम के लिए एक पेनाल्टी भी अर्जित की। कोरोना वायरस से पहले स्कॉटिश प्रीमियर लीग में उन्होंने अपना डेब्यू करते हुए जबरदस्त प्रदर्शन किया था। फरवरी में सीजन के पहले मुकाबले में उन्होंने हर्ट्स डब्ल्यूएफसी के खिलाफ असिस्ट देकर टीम को जीत दिलाने में अपनी भूमिका अदा की थी।

हालांकि, कोरोना वायरस की वजह से इसके बाद टूर्नामेंट को स्थगित करना पड़ा और दोबारा अक्टूबर में इसकी शुरुआत हुई। स्कॉटिश वुमेंस प्रीमियर लीग के इस सीजन में रेंजर्स वुमेन्स एफसी की टीम ने डोमिनेट किया है। उन्हें अभी तक छह में से केवल एक ही मुकाबले में हार मिली है और लीग टेबल में वो ग्लास्गो सिटी के बाद दूसरे पायदान पर मौजूद हैं।

यह भी पढ़ें- ओवन कोल: हम ड्रॉ को जीत में बदलकर तीन प्वॉइंट हासिल करना चाहते हैं

लीग का मौजूदा सीजन मई 2021 तक चलेगा, ऐसे में बाला देवी आगे के मैचों में स्टार्टिंग इलेवन में जगह बनाने की कोशिश करेंगी। अपने पहले गोल के बाद निश्चित तौर पर उनका आत्मविश्वास बढ़ा होगा। अभी वो इस बात पर गर्व कर सकती हैं कि वो ये कारनामा करने वाली पहली भारतीय महिला फुटबॉलर हैं।

Latest News
Advertisement
Advertisement