लीग को सफल बनाने में इन खिलाड़ियों का काफी योगदान रहा है।

कबड्डी भारत का एक लोकप्रिय खेल है और इस गेम में भारत को महारत भी हासिल है। कबड्डी की दुनिया में भारत का डंका बजता है। भारतीय टीम ने अभी तक कई सारे टाइटल भी जीते हैं। इनमें काफी खिलाड़ियों का योगदान रहा है। हालांकि, इन सबके बावजूद इस खेल को वो पहचान और प्रसिद्धि नहीं मिलती थी। कबड्डी प्लेयर्स को ज्यादा लोग नहीं फॉलो करते थे या उनके बारे में बहुत कम जानते थे।

हालांकि प्रो कबड्डी लीग (पीकेएल) के आगाज के बाद से ही कबड्डी का पूरा स्वरूप ही बदल गया। 2014 में पीकेएल का आगाज हुआ और इसके बाद इसमें पैसा और रोमांच दोनों आया। वर्ल्ड क्लास कवरेज, बॉलीवुड और स्पोर्ट्स सेलिब्रिटी के पीकेएल के जुड़ने की वजह से कबड्डी की पॉपुलैरिटी काफी बढ़ गई। टीवी पर कवरेज की वजह से ये घर-घर तक पहुंच गया और यही वजह रही कि लोग इस गेम को काफी फॉलो करने लगे।

पीकेएल अपने आगाज के बाद से ही काफी सफल रहा है और इसको पॉपुलर बनाने में कई खिलाड़ियों का काफी योगदान रहा। हम आपको इस आर्टिकल में उन टॉप 10 खिलाड़ियों के बारे में बताएंगे जिन्होंने पीकेएल को नई ऊंचाइयों तक पहुंचाया:

10. नवीन कुमार

परदीप नरवाल और राहुल चौधरी की विरासत को युवा नवीन कुमार ने काफी अच्छी तरह से बढ़ाया है। इस रेडर ने काफी समय में ही पीकेएल में अपनी एक अलग छाप छोड़ी है। नवीन एक ही सीजन में 300 रेड प्वॉइंट हासिल करने वाले सबसे युवा कबड्डी खिलाड़ी हैं और सातवें सीजन में दबंग दिल्ली को फाइनल में पहुंचाने में उनका सबसे ज्यादा योगदान था।

9. रोहित कुमार

रोहित कुमार ने अपनी कप्तानी में छठे सीजन में बेंगलुरू बुल्स को पीकेएल का चैंपियन बनाया था। तीसरे सीजन में अपने डेब्यू से लेकर अभी तक उन्होंने हर सीजन में कम से कम 100 रेड प्वॉइंट जरूर हासिल किए हैं। पांचवें सीजन में रोहित कुमार दूसरे सबसे ज्यादा रेड प्वॉइंट हासिल करने वाले प्लेयर थे। रोहित कुमार ने अपने शानदार परफॉर्मेंस के दम पर पटना पाइरेट्स को भी पीकेएल का टाइटल जिताया था।

8. पवन सेहरावत

Pawan Sehrawat Bengaluru Bulls
सेहरावत ने लीग में दमदार प्रदर्शन किया है (क्रेडिट-पीकेएल)

पवन सेहरावत प्रो कबड्डी लीग के बड़े सितारे हैं। छठे सीजन में बेंगलुरू बुल्स की तरफ से खेलते हुए उन्होंने 24 मैचों में 282 प्वॉइंट हासिल किए थे। फाइनल मुकाबले में सबसे ज्यादा 22 प्वॉइंट हासिल करके उन्होंने अपनी टीम को चैंपियन बना दिया था। पीकेएल फाइनल में ये किसी भी रेडर का बेस्ट परफॉर्मेंस है। इसके अलावा उनका शानदार फॉर्म सातवें सीजन में भी जारी रहा और उन्होंने 300 रेड प्वॉइंट हासिल किए।

7. दीपक हूडा

दीपक हूडा ने छठे और सातवें सीजन में सबसे बेहतरीन ऑलराउंडर का खिताब जीता था। दीपक हूडा पीकेएल में जयपुर पिंक पैंथर्स के कप्तान हैं और भारतीय कबड्डी टीम के भी कप्तान हैं। तीसरे, चौथे और पांचवें सीजन में पुनेरी पलटन के वो सबसे सफल रेडर रहे। उनकी गिनती लीग के बेस्ट ऑलराउंडर्स में होती है।

6. मंजीत छिल्लर

मंजीत छिल्लर एक ऐसे प्लेयर हैं जिन्होंने प्रो कबड्डी लीग के पहले सीजन से ही लगातार बेहतरीन प्रदर्शन किया है। पहले सीजन में उन्होंने 122 प्वॉइंट हासिल किए थे। दूसरे सीजन में 107, तीसरे सीजन में 106, चौथे सीजन में 68, पांचवें सीजन में 52, छठे सीजन में 67 और सीजन सात में उन्होंने 41 प्वॉइंट हासिल किए। दूसरे सीजन में उन्हें मोस्ट वैल्यूएबल प्लेयर भी चुना गया था।

5. फजल अत्राचली

ईरान के फजल अत्राचली पीकेएल इतिहास के सबसे सफल और लोकप्रिय विदेशी खिलाड़ी हैं। उन्होंने प्रो कबड्डी लीग में काफी सफलता हासिल की है। यू-मुम्बा के कप्तान के तौर पर उन्होंने सबको काफी प्रभावित किया है और वो ना केवल पीकेएल बल्कि दुनिया के दिग्गज डिफेंडर्स में से एक हैं। फजल अत्राचली ने अभी तक 103 मैचों में कुल 317 टैकल प्वॉइंट हासिल किए हैं और ये कारनामा करने वाले वो पीकेएल के एकमात्र प्लेयर हैं।

4. अजय ठाकुर

अजय ठाकुर Ajay Thakur
अजय ठाकुर लीग के दिग्गज खिलाड़ी हैं (क्रेडिट-पीकेएल)

पीकेएल में अजय ठाकुर किसी भी टीम के लिए खेलते हैं फैंस उन्हें काफी पसंद करते हैं। अजय ठाकुर का परफॉर्मेंस जितना बेहतर लीग में रहा है उतना ही जबरदस्त खेल उन्होंने अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर भी किया है। उन्होंने कुल मिलाकर अपने करियर में अभी तक 120 मुकाबले खेले हैं और इस दौरान 797 रेड प्वॉइंट हासिल किए हैं।

3. अनूप कुमार

कैप्टन कूल के नाम से मशहूर अनूप कुमार ने प्रो कबड्डी लीग की शुरूआत को ही काफी यादगार बना दिया था। उन्होंने पहले सीजन में ही 169 प्वॉइंट हासिल करके पीकेएल का धमाकेदार आगाज किया था और इस लीग को एक नया आयाम दे दिया था। वो पहले सीजन में मोस्ट वैल्यूएबल प्लेयर चुने गए थे। अनूप कुमार ने कई सीजन तक एक प्लेयर के तौर पर तो खेला ही अब संन्यास लेने के बाद वो कोच के तौर पर अपनी सेवा दे रहे हैं।

2. राहुल चौधरी

राहुल चौधरी पीकेएल में 800 प्वॉइंट हासिल करने वाले पहले खिलाड़ी बने थे। उन्होंने चौथे सीजन में बेस्ट रेडर का अवॉर्ड भी जीता था। इसके अलावा और भी कई रिकॉर्ड उन्होंने अपने नाम किए हैं। यही वजह है कि वो कबड्डी के लोकप्रिय प्लेयर्स में से एक बन गए हैं। “शो मैन” राहुल चौधरी के सोशल मीडिया पर काफी ज्यादा फॉलोअर्स हैं और पीकेएल में भी उन्हें लोग काफी पसंद करते हैं।

1.परदीप नरवाल

“डुबकी किंग” परदीप नरवाल को अगर प्रो कबड्डी लीग का सबसे बड़ा स्टार कहा जाए तो शायद गलत नहीं होगा। परदीप नरवाल ने पीकेएल इतिहास में 1100 से ज्यादा पॉइंट्स हासिल किए हैं। पटना पाइरेट्स को उन्होंने तीन बार पीकेएल का टाइटल जिताया। वो सबसे ज्यादा पॉइंट्स हासिल करने वाले प्लेयर हैं। यही वजह है कि वो पीकेएल के एक बहुत बड़े ब्रांड बन गए हैं और इस लीग को सफल बनाने में उनका काफी बड़ा योगदान है।